Top
Home > Lead Story > परीक्षा पे चर्चा 2020 : PM मोदी सर की क्लास - इस दशक में देश जो भी करेगा, उसमें आपका योगदान अहम

परीक्षा पे चर्चा 2020 : PM मोदी सर की क्लास - इस दशक में देश जो भी करेगा, उसमें आपका योगदान अहम

परीक्षा पे चर्चा 2020 : PM मोदी सर की क्लास - इस दशक में देश जो भी करेगा, उसमें आपका योगदान अहम

नई दिल्ली। पीएम नरेंद्र मोदी स्टूडेंट्स और उनके पैरंट्स की टेंशन दूर करने के लिए 'परीक्षा पे चर्चा' कर रहे हैं। पीएम ने पिछले साल भी छात्रों संग यह चर्चा की थी। दिल्ली के तालकटोरा इनडोर स्टेडियम में हो रही इस चर्चा में छात्रों और शिक्षकों से परीक्षा के तनाव को दूर करने पर संवाद कर रहे हैं। इस कार्यक्रम में कुल 2,000 स्टूडेंट्स और टीचर्स हिस्सा ले रहे हैं, जिनमें से 1,050 छात्रों का चयन निबंध प्रतियोगिता के जरिए किया गया है।

परीक्षा पे चर्चा में पीएम मोदी ने कहा कि फिर एक बार आपका ये दोस्त आपके बीच में है। उन्होंने कहा कि मैं सबसे पहले 2020 यानी नये साल की आप सभी को शुभकामनाएं देता हूं। ये 2020 नया साल है, ऐसा नहीं है, बल्कि यह एक नया दशक है। आपके जीवन में यह दशक जितना अहम है, हिन्दुस्तान के लिए भी उतना ही महत्वपूर्ण है। इसका मतलब है कि इस दशक में देश जो भी करेगा, उसमें इस वक्त जो दसवीं-12वीं के विद्यार्थी हैं, उनका सबसे ज्यादा योगदान होगा। यह दशक महत्वपूर्ण बने, नई ऊंचाइयों को पाने वाला, नए संकल्पों और सिद्धियों के साथ आगे बढ़े, ये सब इस पीढ़ी पर ज्यादा निर्भर करता है।

परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम में पीएम मोदी एक दोस्त की तरह छात्रों से मुखातिब हुए। उन्होंने संबोधन की शुरुआत करते हुए कहा, ' उनका यह दोस्त एक बार फिर उनके सामने है।' पीएम ने छात्रों को 2020 के दशक की अहमियत समझाई। उन्होंने कहा कि यह दशक हिंदुस्तान के लिए बहुत अहम है। इस दशक में देश जो भी करेगा, उसमें 10वीं और 12वीं के विद्यार्थियों का सबसे ज्यादा योगदान होगा। मोदी ने कहा कि यह दशक नई ऊंचाइयों को पाने वाला बने, यह सबसे ज्यादा इस पीढ़ी पर निर्भर करता है।

पीएम ने कहा कि उन्होंने कहा कि वह कई साल तक सीएम रहे, फिर लोगों उन्हे पीएम बना दिया। इस कारण कई जगह जाना होता है। कुछ जानने को मिलता है, कुछ सीखने को मिलता है। हर का अपने महत्व होता है। लेकिन अगर कोई मुझे कहे कि इतने कार्यक्रमों के बीच परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम मेरे दिल के करीब है और दिल को छूने वाला है।

इस कार्यक्रम का यूट्यूब पर सीधा प्रसारण किया जा रहा है। मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने उन छात्रों का चयन किया है जो पांच विषयों पर उनके द्वारा प्रस्तुत निबंधों के आधार पर प्रधानमंत्री से सवाल पूछेंगे। 9वीं से 12वीं तक के बच्चों से पीएम मोदी कर रहे हैं बात।

एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि पिछले साल करीब 1.4 लाख छात्रों की प्रविष्टियां देशभर से मिली थीं। इस बार यह संख्या बढ़कर लगभग 2.6 लाख हो गई है। मोदी ने 2018 में आयोजित ऐसे सत्र में छात्रों के 10 प्रश्नों के उत्तर दिए थे और पिछले साल 16 सवाल लिए थे। पहले इस साल यह सत्र 16 जनवरी को होना था लेकिन देशभर में विभिन्न पर्वों की वजह से इसे टाल दिया गया था।

पीएम मोदी जब स्टेडियम पहुंचे तो छात्रों ने कई तरह की पेंटिंग दिखाई। छात्रों ने पर्यावरण, शिक्षा और परीक्षा के तनाव के बारे में पेंटिंग दिखाई। छात्रों ने देश के महापुरुषों के स्टैच्यू भी दिखाए। इस बीच, एक छात्र ने पीएम मोदी समुंद्र तट पर उनके द्वारा की गई सफाई की पेंटिंग भी दिखाई। केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने पीएम मोदी का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि अंतिम क्षण तक हर व्यक्ति परीक्षा के लिए काम करता है।

Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top