Home > Lead Story > कुमारस्वामी सरकार पर संकट के बादल छाए, 11 विधायक पहुंचे मुंबई

कुमारस्वामी सरकार पर संकट के बादल छाए, 11 विधायक पहुंचे मुंबई

कुमारस्वामी सरकार पर संकट के बादल छाए, 11 विधायक पहुंचे मुंबई

नई दिल्ली। कर्नाटक में शनिवार को कांग्रेस-जेडीएस के 11 विधायकों के इस्तीफा देने से एचडी कुमारस्वामी सरकार पर संकट के बादल छाए हुए हैं। इस बीच कांग्रेस विधायकों को पाले में लाने में जुटी है, लेकिन इस्तीफा देने वाले 13 विधायकों में से 11 स्पेशल फ्लाइट से मुंबई चले गए हैं और एक लग्जरी होटल में ठहरे हैं। वहीं ताजा घटनाक्रम से एक बार फिर सियासी खींचतान शुरू हो गई है। बता दें कि कांग्रेस के दो विधायक पहले ही पार्टी छोड़ने का ऐलान कर चुके हैं।

शनिवार को कांग्रेस के 10 और जेडीएस के 3 विधायकों के इस्तीफा देने क बाद कर्नाटक सरकार जो 118 विधायकों के साथ चल रही थी अब उसके पास 105 ही विधायकों को समर्थन है। वहीं दूसरी तरफ बीजेपी के पास भी 105 विधायक है।

बीजेपी के नेता बीएस येदियुरप्पा ने कहा कि मैं तुमकूर जा रहा हूं और 4 बजे लौटूंगा। आपको राजनीतिक घटनाक्रम पता ही हैं, इसलिए इंतजार करिए और देखिए। मुझे इससे कोई मतलब नहीं है कि सिद्धारमैया और कुमारस्वामी क्या कह रहे हैं।

वहीं कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खडगे ने खुद को सीएम बनाए जाने की चर्चाओं पर बोले कि मुझे पता नहीं हैं। मैं चाहता हूं कि गठबंधन जारी रहे। ऐसी सूचनाएं हमें बांटने के लिए फैलाई जा रही हैं। उन्होंने कहा कि रामलिंगा रेड्डी वरिष्ठ आदमी हैं, वह कांग्रेसी हैं। काफी लंबे समय से बेंगलुरु में कांग्रेस का किला उन्होंने बचाकर रखा है। देखते हैं उनकी क्या समस्याएं हैं।

मनाने की कोशिशें तेज : कांग्रेस ने इस बीच बगावत करने वाले विधायकों को मनाने की कोशिशें तेज कर दी है। इसी कड़ी में इस्तीफा देने वाले तीन विधायकों की पार्टी के वरिष्ठ नेता डीके शिवकुमार के आवास पर मुलाकात की। सूत्रों ने बताया कि है कि वे सिद्धरमैया को मुख्यमंत्री बनाने की शर्त पर इस्तीफा वापस लेने को तैयार है। शिवकुमार ने भी सभी विधायकों को मना लेने की बात कही है।

मुख्यमंत्री देश से बाहर : कांग्रेस-जेडीएस विधायकों ने ऐसे समय बगवत की है जब मुख्यमंत्री एचडी कुमार स्वामी और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष दिनेश गुंडू राव दोनों ही देश से बाहर हैं। ताजा घटनाक्रम के बाद कुमारस्वामी अमेरिका से और राव लंदन से रविवार को लौट सकते हैं।

भाजपा सरकार बनाने को तैयार : केंद्रीय मंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता डीवी सदानंद गौड़ा ने घटनाक्रम पर कहा कि विधायकों ने स्वेच्छा से जनभावना के अनुरूप इस्तीफा दिया है। उन्होंने कहा कि जहां तक सरकार बनाने की बात है तो इसपर राज्यपाल फैसला करेंगे। अगर राज्यपाल आमंत्रित करते हैं तो भाजपा सरकार बनाने को तैयार है और मुख्यमंत्री वीएस येदियुरप्पा होंगे। हालांकि, उन्होंने इस्तीफे में भाजपा की भूमिका से इनकार किया।

विधानसभा की स्थिति

224 सदस्यीय है विधानसभा

113 सदस्य चाहिए बहुमत के लिए

2018 की तस्वीर

- 120 विधायकों के साथ बनी थी कुमारस्वामी सरकार

- 80 कांग्रेस,37 जेडीएस,एक बसपा,दो निर्दलीय सत्ता में

- 104 विधायक भाजपा के चुनकर आए थे

लगातार घटते रहे विधायक

- 02 कांग्रेस विधायकों ने 1 जुलाई को इस्तीफा दिया, एक पार्टी से निष्काषित

- 01 सीट (चिंचोली) उपचुनाव में भाजपा ने कांग्रेस से छिनी

- 11 विधायकों ने शनिवार को विधानसभा से इस्तीफा दिया

इस्तीफे का असर

- 211 हो जाएगी विधानसभा में विधायकों की कुल संख्या (11 ने शनिवार को और दो ने एक जुलाई को दिया इस्तीफा)

- 107 विधायकों का समर्थन चाहिए सरकार बनाने के लिए

- 105 विधायक इस समय भाजपा के सदन में हैं

- सरकार से कुछ और विधायकों के टूटने के आसार

Tags:    

Swadesh Digital ( 10170 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top