Home > Lead Story > देश में सड़कों के गड्ढे आतंकवाद से भी ज्यादा खतरनाक: सुप्रीम कोर्ट

देश में सड़कों के गड्ढे आतंकवाद से भी ज्यादा खतरनाक: सुप्रीम कोर्ट

देश में सड़कों के गड्ढे आतंकवाद से भी ज्यादा खतरनाक: सुप्रीम कोर्ट

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने सड़क सुरक्षा से जुड़ी एक याचिका पर सुनवाई करते हुए सड़कों पर गड्ढों को लेकर चिंता जताई है। कोर्ट ने कहा कि देश में सड़कों के गड्ढे आतंकवाद से भी ज्यादा खतरनाक होते जा रहे हैं। सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले पर केंद्र सरकार से जवाब तलब किया है। मामले की अगली सुनवाई अगले साल जनवरी में होगी।

आज सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट को बताया गया कि 2013 से 2017 के बीच गड्ढों की वजह से 14 हजार 926 से ज्यादा लोगों की मौतें हुईं। तब सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि पिछले पांच वर्षों में सड़कों पर गड्ढों की वजह से मरने वालों की संख्या सीमा पर या आतंकवादियों द्वारा की गई हत्याओं से ज्यादा है। ये आंकड़ा साफ बताता है कि अधिकारी सड़कों की देखरेख नहीं कर रहे हैं।

पिछली 12 जुलाई को सुनवाई करते हुए कोर्ट ने केंद्र और राज्य सरकारों को कड़ी फटकार लगाई थी। सुप्रीम कोर्ट ने पूछा था कि राज्य सरकारें और संबंधित एजेंसियां क्या कर रही हैं। कोर्ट ने पूछा था कि मुंबई और दिल्ली की सड़कों में कितने गड्ढे हैं ये कौन बताएगा? इस पर सरकार की ओर से पेश वकील ने कहा था कि हम जल्द ही जानकारी कोर्ट के सामने रखेंगे ।

कोर्ट ने सड़क हादसे और उसमें हुई मौत पर पूछा था कि 2016 में सड़क हादसों में कुल 1 लाख 60 हजार मौतें हुई। जिसमें से 20 हजार मौतें हिट एंड रन के मामलों में हुई । ऐसे में पीड़ितों को मुआवजा देने को लेकर क्या किया जा रहा है? तब सुप्रीम कोर्ट ने इस बात पर गहरी चिंता जताई थी कि सबसे ज्यादा सड़क दुघर्टनाएं गड्ढों की वजह से हो रही हैं।

Tags:    

Swadesh News ( 5164 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top