Home > Lead Story > मप्र विधानसभा में कांग्रेस सरकार ने हासिल किया बहुमत, भाजपा को लगा बड़ा झटका

मप्र विधानसभा में कांग्रेस सरकार ने हासिल किया बहुमत, भाजपा को लगा बड़ा झटका

मप्र विधानसभा में कांग्रेस सरकार ने हासिल किया बहुमत, भाजपा को लगा बड़ा झटका

Breaking News


- मप्र विधानसभा में कांग्रेस सरकार ने दंड विधि संशोधन विधेयक पर बहुमत हासिल किया।

- पक्ष में 122 वोट पड़े, भाजपा के 2 विधायकों ने की क्रॉस वोटिंग

- सरकार को मिला 122 विधायकों का साथ

- भाजपा को बड़ा झटका

- नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने आज ही सरकार गिरान की धमकी दी थी। लेकिन मुख्यमंत्री कमलनाथ ने उन्हें करार जबाव दिया

- सदन में दंड विधि संशोधन विधेयक पर मत विभाजन पर बीजेपी के एक विधायक ने क्रास वोटिंग कर कांग्रेस को वोट दे दिया

भोपाल/स्वदेश वेब डेस्क। कर्नाटक की तर्ज पर नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने आज ही मप्र सरकार को गिरान की धमकी दी थी। लेकिन मुख्यमंत्री कमलनाथ ने विधेयक पर हुई वोटिंग से करार जवाब दिया है दरअसल सदन में दंड विधि संशोधन विधेयक पर मत विभाजन पर पक्ष विपक्ष राजी हुआ लेकिन वोटिंग के दौरान भाजपा के दो विधायकों ने क्रास वोटिंग कर कांग्रेस सरकार के पक्ष में वोट दे डाला। वोटिंग के आये परिणाम के अनुसार सरकार को 122 विधायकों का साथ मिला ।

भाजपा के दो विधायक ब्योहारी से शरद कोल और मैहर से नारायण त्रिपाठी की कांग्रेस सरकार के पक्ष में वोटिंग करने की बात सामने आ रही है।

मध्य प्रदेश विधानसभा की स्थिति -

कुल सीटें : 230, सरकार को बहुमत के लिए: 116

पार्टी

कुल विधायक

भाजपा

108

कांग्रेस

114

निर्दलीय

04

सपा

01

बसपा

02

रिक्त

01

इसे लेकर बुधवार को जब वोटिंग कराई गई तो बीजेपी के भी दो विधायकों ने कमलनाथ सरकार के इस बिल को समर्थन दे दिया। इससे भारतीय जनता पार्टी की काफी किरकिरी हुई, वहीं कांग्रेस को बीजेपी पर हमला करने का सुनहरा मौका मिल गया। गौरतलब है कि बीते दिनों कर्नाटक में गठबंधन सरकार गिरने के बाद एमपी के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कमलनाथ सरकार के गिरने की भी आशंका जताई थी और कहा था कि सरकार के अंदर कांग्रेस विधायकों में काफी मतभेद है।

ताजा घटनाक्रम ऐसे वक्त में हुआ है कि जब एक दिन पहले ही कर्नाटक में 'ऑपरेशन लोटस' की कामयाबी के बाद ऐसी अटकलें लगाई जा रही थीं कि अब बीजेपी के निशाने पर मध्य प्रदेश और राजस्थान की कांग्रेस नीत सरकारे हैं। दोनों ही राज्यों में कांग्रेस को पूर्ण बहुमत नहीं मिला है लेकिन निर्दलीयों और बीएसपी के समर्थन से वह सरकार में है। मध्य प्रदेश में बीजेपी के 2 विधायकों द्वारा बिल पर वोटिंग के दौरान सरकार का साथ देना बीजेपी के लिए किसी बड़े झटके से कम नहीं है।








Tags:    

Swadesh News ( 0 )

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Share it
Top