Home > Lead Story > कांग्रेस को महाराष्ट्र चुनाव से पहले पार्टी को बड़ा झटका, मिलिंद देवड़ा ने मुंबई अध्यक्ष पद से दिया इस्तीफा

कांग्रेस को महाराष्ट्र चुनाव से पहले पार्टी को बड़ा झटका, मिलिंद देवड़ा ने मुंबई अध्यक्ष पद से दिया इस्तीफा

कांग्रेस को महाराष्ट्र चुनाव से पहले पार्टी को बड़ा झटका, मिलिंद देवड़ा ने मुंबई अध्यक्ष पद से दिया इस्तीफा

नई दिल्ली। मुंबई कांग्रेस के अध्यक्ष मिलिंद देवड़ा ने रविवार को पद से इस्तीफा देने की घोषणा की और कहा कि वह पार्टी को स्थिर करने में मदद करने के लिए राष्ट्रीय स्तर पर भूमिका निभाना चाहते हैं। उन्होंने आगामी महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों के लिए मुंबई कांग्रेस का नेतृत्व करने के लिए तीन सदस्यीय पैनल का भी प्रस्ताव दिया है।

उन्होंने इस वर्ष होने वाले महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों तक शहर की पार्टी इकाई की देखरेख के लिए कांग्रेस के तीन वरिष्ठ नेताओं को शामिल करते हुए एक अस्थायी सामूहिक नेतृत्व स्थापित करने की सिफारिश की है। रविवार को उनके कार्यालय द्वारा जारी एक बयान में कहा गया है कि भाजपा-शिवसेना का साथ और वनंचित अघड़ी के प्रभाव को नकारना महाराष्ट्र में कांग्रेस के लिए एक चुनौती है। देवड़ा ने 26 जून को नई दिल्ली में कांग्रेस नेता राहुल गांधी से मिलने के बाद पद छोड़ने की इच्छा व्यक्त की थी।

देवड़ा द्वारा जारी बयान में कहा गया है कि अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव मल्लिकार्जुन खड़गे और के सी वेणुगोपाल को भी सूचित कर दिया गया है। जब देवड़ा से संपर्क किया गया तो उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव के नतीजों के बाद से ही राजनीतिक वास्तविकताओं में बदलाव आया है। हम सभी को भूमिकाओं के लिए तैयार होना पड़ेगा जो इन समय की मांग है।

देवड़ा को इस वर्ष की शुरुआत में हुए लोकसभा चुनाव की पूर्व संध्या पर मुंबई कांग्रेस का अध्यक्ष नियुक्त किया गया था। उन्होंने कहा कि मैंने पार्टी को एकजुट करने के हित में एमआरसीसी अध्यक्ष पद स्वीकार किया था। उन्होंने कहा कि मुझे राहुल गांधी से मिलने के बाद लगा कि इस्तीफा दे देना चाहिए।

आपको बता दें कि राहुल गांधी ने चुनावी हार की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए अध्यक्ष पद से इस्तीफा दिया था। उन्होंने यह भी कहा कि पार्टी की भविष्य के विकास के लिए उनका इस्तीफा देना जरूरी था। राहुल गांधी ने अपने ट्विटर अकाउंट से एक लेटर जारी किया है और अपनी बातें रखी हैं।

गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की करारी हार के बाद 25 मई को हुई पार्टी कार्य समिति की बैठक में राहुल गांधी ने अध्यक्ष पद से इस्तीफे की पेशकश की थी। हालांकि कार्य समिति के सदस्यों ने उनकी पेशकश को खारिज करते हुए उन्हें आमूलचूल बदलाव के लिए अधिकृत किया था। इसके बाद से गांधी लगातार इस्तीफे पर अड़े हुए थे। हालांकि पार्टी के कई वरिष्ठ नेताओं ने उनसे आग्रह किया था कि वह कांग्रेस का नेतृत्व करते रहें।

Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top