Home > देश > 17वीं लोकसभा का प्रथम सत्र हुआ शुरू, प्रधानमंत्री ने संसद सदस्य के तौर पर ली शपथ

17वीं लोकसभा का प्रथम सत्र हुआ शुरू, प्रधानमंत्री ने संसद सदस्य के तौर पर ली शपथ

17वीं लोकसभा का प्रथम सत्र हुआ शुरू, प्रधानमंत्री ने संसद सदस्य के तौर पर ली शपथ

नई दिल्ली। 17वीं लोकसभा का पहला सत्र आज से शुरू होगा। तीन तलाक समेत कई अहम विधेयक हैं जिन्हें सरकार पास कराने की कोशिश करेगी। भारतीय जनता पार्टी के सांसद वीरेंद्र कुमार ने सोमवार सुबह प्रोटेम स्पीकर के तौर पर शपथ ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उन्हें शपथ दिलाई। वीरेंद्र कुमार ही अब सभी नए लोकसभा सांसदों को शपथ दिलाएंगे। अगले दो दिनों में सभी 542 सांसदों को शपथ दिलाई जाएगी।

बता दें, वीरेंद्र कुमार टीकमगढ़ से सांसद हैं। वीरेंद्र कुमार 1996 में पहली बार सांसद बने थे और मौजूदा समय में इस बार सातवीं बार लोकसभा सदस्य चुने गए हैं। उनकी वरिष्ठता को देखते हुए प्रोटेम स्पीकर बनाने का फैसला किया गया है।

UPDATE.....

- 17वीं लोकसभा का पहला सत्र आज से शुरू हो गया है। सत्र की शुरुआत राष्ट्रगान के साथ हुई और इसके बाद 2 मिनट का मौन रखा गया। सबसे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसद सदस्य के तौर पर शपथ ली। इस दौरान सदन में मोदी-मोदी के नारे गूंजते रहे। अब नव निर्वाचित सांसद शपथ ले रहे हैं।

- संसद का सत्र शुरू होने से पहले पीएम मोदी ने मीडिया से बात की। पीएम मोदी ने कहा कि प्रतिपक्ष के लोग नंबर की चिंता छोड़ दें, हमारे लिए उनकी भावना मूल्यवान है। उन्होंने कहा कि संसद में हम पक्ष-विपक्ष को छोड़ निष्पक्ष होकर काम करेंगे। पीएम ने कहा कि हमें उम्मीद है कि इस बार सदन में अधिक काम होगा।

- थोड़ी देर में लोकसभा की कार्यवाही शुरू होगी। आज सांसद शपथ लेंगे, सबसे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शपथ लेंगे और उसके बाद उनका मंत्रिमंडल शपथ लेगा। दो दिनों में सभी 542 सांसद शपथ लेंगे।

- वीरेंद्र कुमार ने प्रोटेम स्पीकर के तौर पर शपथ ली।

वहीं विपक्ष किसान, सूखा और बेरोजगारी जैसे अहम मुद्दों पर सरकार को संसद में घेर सकता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नई लोकसभा के पहले सत्र की पूर्वसंध्या पर रविवार को सर्वदलीय बैठक की अध्यक्षता की। उन्होंने 19 जून को सभी दलों के प्रमुखों को 'एक राष्ट्र, एक चुनाव' के मुद्दे पर तथा अन्य महत्वपूर्ण विषयों पर चर्चा के लिए आमंत्रित किया है।

लोकसभा में इस बार कई नये चेहरे होने की बात को रेखांकित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि निचले सदन का पहला सत्र नये उत्साह और सोच के साथ शुरू होना चाहिए। सर्वदलीय बैठक में कांग्रेस ने सरकार के साथ बेरोजगारी, किसानों की समस्या, सूखा और प्रेस की आजादी जैसे विषय उठाये। विपक्षी दल ने जम्मू कश्मीर में जल्द विधानसभा चुनाव कराने की मांग की।

भाजपा ने भी रविवार को संसदीय दल की बैठक की। इसके माध्यम से प्रधानमंत्री ने सभी भारतीयों को आश्वासन दिया कि उनकी सरकार ऐसे विधेयकों को लाने में अग्रणी रहेगी जो 'सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास' की भावना को परिलक्षित करें। बैठक के बाद मोदी ने ट्वीट किया, 'लोगों के आशीर्वाद के लिए भाजपा उनका आभारी है। हम अपने देशवासियों को आश्वस्त करते हैं कि हम जन समर्थक प्रशासन देंगे और ऐसे कानून बनाएंगे जिसमें 'सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास' की भावना समाहित हो।'

26 जुलाई को खत्म होने वाले सत्र में 30 बैठकें होंगी। पहले 2 दिन लोकसभा के सभी सांसदों को शपथ दिलाई जाएगी। कार्यवाहक लोकसभा अध्यक्ष वीरेंद्र कुमार शपथ दिलाएंगे। लोकसभा अध्यक्ष का चुनाव 19 जून को होगा और अगले दिन दोनों सदनों के संयुक्त सत्र की बैठक में राष्ट्रपति का अभिभाषण होगा। 5 जुलाई को बजट पेश किया जाएगा।

Tags:    

Swadesh Digital ( 10170 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top