Top
Home > स्वास्थ्य > जानिए कितना खतरनाक है कोरोना वायरस ? ये हैं इसके लक्षण, रखें सावधानी

जानिए कितना खतरनाक है कोरोना वायरस ? ये हैं इसके लक्षण, रखें सावधानी

जानिए कितना खतरनाक है कोरोना वायरस ? ये हैं इसके लक्षण, रखें सावधानी

नई दिल्ली। चीन से फैले कोरोना वायरस ने भारत समेत दुनियाभर के कई देशों में हाहाकार मचा दिया है। यह वायरस भारत, अमेरिका, तिब्बत, थाइलैंड, जापान और मंगोलिया में लोगों को अपनी चपेट में ले रहा है। मुंबई के बाद राजस्थान और बिहार में भी कोरोना वायरस ने दस्तक दे दी है। बिहार में इस वायरस से संक्रमित मरीज मिला है। 2019-एनसीओवी कोरोना वायरस से अब तक 80 मौतें हो चुकी है। 11 देशों में फैल चुके इस वायरस की दस्तक अब भारत में भी हो गई है। और 2,744 संक्रमित मरीजों की पुष्टि हुई है। सीएनएन की रिपोर्ट के मुताबिक, इनमें से 461 मरीजों की हालत बेहद गंभीर बनी हुई है।

हम आपको बता दें कि कोरोना वायरस पिछले साल दिसंबर महीने में सबसे पहले चीन के वुहान शहर में फैला। यहां से यह वायरस तेजी से पूरे चीन में फैलने लगा और लोगों को चपेट में लेने लगा। वुहान के बाद यह वायरस बीजिंग, शंघाई, मकाओ और हांगकांग पहुंचा और लोग इससे संक्रमित होने लगे। चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग का कहना है सबसे पहले कोरोनावायरस 1960 में सामने आया था। लेकिन यह कोई नहीं जानता किय कहां से आया है। यह वायरस जानवरों और इंसान दोनों को संक्रमित कर सकता है। कोरोनावायरस सांस संबंधी इंफेक्शन से जुड़ा हुआ है। इसके लक्षणों में नाक का बहना, खांसी, गले में खराश और बुखार शामिल हैं।

जानें, क्या है कोरोना वायरस?

कोरोना वायरस एक तरह का संक्रमित होने वाला वायरस है। विश्व स्वास्थ्य संगठन इस वायरस को लेकर लोगों को चेता चुका है। यह वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में संक्रमण के जरिए फैलता है। दुनिया के तमाम देशों में यह वायरस चीन से आने वाले यात्रियों के जरिए ही पहुंच रहा है। इस वायरस के लक्षण निमोनिया की ही तरह हैं। यह वायरस कोरोनो वायरस परिवार से संबंध रखने वाला वायरस है।

कोरना वायरस जानवरों में भी पाया जाता है। समुद्री जीव-जंतुओं के जरिए यह वायरस चीन के लोगों में फैला। दक्षिण चीन में समुद्र के आसपास रहने वाले लोगों को सबसे पहले इस वायरस ने चपेट में लिया, जिनमें वुहान शहर है। दक्षिण चीन के बाजार जहां काफी मात्रा में समुद्री जीव मिलते हैं, उनके जरिए यह वायरस लोगों में फैला। इस बाजार में समुद्री जीव जिंदा भी मिलते हैं और उनका मांस भी मिलता है। यहीं से इस वायरस ने चीन के निवासियों को अपनी चपेट में लिया।

लक्षण

बुखार

सांस लेने में दिक्कत

सर्दी-जुकाम

खांसी

नाक का लगातार बहना

सिर में दर्द

ऑर्गन फेल्योर (अंगों का काम करना बंद )

कोरोना वायरस के संक्रमण से सुरक्षित रखने के लिए उपाय

- अपने हाथ साबुन और पानी या अल्कोहल युक्त हैंड रब से साफ करें।

- खांसते या छींकते वक्त अपनी नाक और मुंह को टिश्यू या मुड़ी हुई कोहनी से ढकें।

- जिन्हें सर्दी या फ्लू जैसे लक्षण हों, उनके साथ करीबी संपर्क बनाने से बचें।

- मीट और अंडों को अच्छे से पकाएं।

- जंगल और खेतों में रहने वाले जानवरों के साथ असुरक्षित संपर्क न बनाएं।

Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top