Home > अर्थव्यवस्था > जुलाई महीने में थोक महंगाई दर में आई कमी

जुलाई महीने में थोक महंगाई दर में आई कमी

जुलाई महीने में थोक महंगाई दर में आई कमी

नई दिल्ली। थोक मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति जुलाई में घटकर 1.08 फीसदी पर आ गई। इससे पहले पिछले महीने जून में थोक महंगाई दर पिछले 23 महीनों के निम्न स्तर 2.02 प्रतिशत पर आ गई थी। सब्जियों, ईंधन और बिजली से जुड़े सामानों की कीमतों में कमी के कारण थोक महंगाई दर में लगातार तीसरे महीने गिरावट दर्ज की गई है। इससे पहले पिछले साल जुलाई 2018 में महंगाई दर 5.27 फीसदी पर थी।

सस्ते ईंधन तथा खाद्य सामग्रियों के कारण थोक मूल्य सूचकांक (डब्ल्यूपीआई) आधारित मुद्रास्फीति जुलाई महीने में कई साल के निचले स्तर 1.08 प्रतिशत पर आ गयी। बुधवार को जारी सरकारी आंकड़ों में इसकी जानकारी मिली।

डब्ल्यूपीआई आधारित मुद्रास्फीति इस साल जून में 2.02 प्रतिशत तथा पिछले साल जुलाई में 5.27 प्रतिशत थी। सरकारी आंकड़ों के अनुसार, जुलाई महीने में खाद्य सामग्रियों की मुद्रास्फीति जून के 6.98 प्रतिशत से नरम होकर 6.15 प्रतिशत पर आ गयी।

ईंधन एवं बिजली श्रेणी में अपस्फीति जून के 2.20 प्रतिशत की तुलना में और बढ़कर जुलाई में 3.64 प्रतिशत पर पहुंच गयी। जुलाई महीने में खुदरा मुद्रास्फीति भी जून के 3.18 प्रतिशत की तुलना में नरम होकर 3.15 प्रतिशत रही है।

Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top