Home > देश > 'सागरमाला' को 52वें स्कॉच सम्मेलन 2018 में मिला स्वर्ण पुरस्कार

'सागरमाला' को 52वें स्कॉच सम्मेलन 2018 में मिला स्वर्ण पुरस्कार

जहाजरानी मंत्रालय के बंदरगाह आधारित समृद्धि के प्रमुख कार्यक्रम |

सागरमाला को 52वें स्कॉच सम्मेलन 2018 में मिला स्वर्ण पुरस्कार

नई दिल्ली | जहाजरानी मंत्रालय के बंदरगाह आधारित समृद्धि के प्रमुख कार्यक्रम 'सागरमाला' को हाल ही में नई दिल्ली में आयोजित 52वें स्कॉच सम्मेलन 2018 में बुनियादी ढांचा क्षेत्र में स्वर्ण पुरस्कार मिला। सागरमाला को यह पुरस्कार भारत के सामाजिक आर्थिक रूपांतरण में इस कार्यक्रम के योगदान तथा त्वरित एवं बुनियादी क्षेत्र के विकास में इसकी भूमिका को देखते हुए दिया गया है। सागरमाला कार्यक्रम को सम्मेलन के दौरान 'ऑर्डर ऑफ मेरिट' भी प्रदान किया गया। सचिव (जहाजरानी) गोपाल कृष्ण ने केंद्रीय जहाजरानी, सड्क परिवहन एवं राजमार्ग, जल संसाधन, नदी विकास एवं गंगा संरक्षण मंत्री नितिन गडकरी के साथ इस पुरस्कार को साझा किया। स्कॉच पुरस्कार आर्थिक सामाजिक बदलावों में तेजी लाने में नेतृत्व करने एवं उत्कृष्ट प्रदर्शन करने के लिए प्रदान किया जाता है।

जहाजरानी मंत्रालय के संयुक्त सचिव (सागरमाला) कैलाश कुमार अग्रवाल ने स्कॉच समूह के अध्यक्ष समीर कोचर एवं सचिव (जहाजरानी) गोपाल कृष्ण से प्राप्त किया जो पुरस्कार समारोह के समापन सत्र के मुख्य अतिथि थे। 'ऑर्डर ऑफ मेरिट' जहाजरानी मंत्रालय के उप सचिव (सागरमाला) श्री अभिषेक चंद्रा द्वारा प्राप्त किया गया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 25 मई, 2015 को सागरमाला परियोजना की अवधारणा एवं सस्थागत संरचना के लिए अपना' सैद्धांतिक अनुमोदन दिया था।


Swadesh Digital ( 7862 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top