Home > देश > कश्मीर में आगामी पांच साल में होगा तेजी से विकास : अमित शाह

कश्मीर में आगामी पांच साल में होगा तेजी से विकास : अमित शाह

कश्मीर में आगामी पांच साल में होगा तेजी से विकास : अमित शाह

नई दिल्ली। गृहमंत्री अमित शाह ने आज राज्यसभा में कहा है कि धारा 370 की वजह से ही कई संविधान संशोधन वहां आज तक लागू नहीं हो पाए है। पंचायत और नगर पालिका के चुनाव वहां नहीं होते थे। सरपंचों के अधिकार 70 साल तक छीने गए उसके लिए कौन जिम्मेदार हैं। जम्मू-कश्मीर हमेशा केन्द्र शासित प्रदेश नहीं रहेगा। आप देखना पांच साल में कश्मीर पांच साल में बहुत विकास होगा। अमित शाह के बोलने के बाद राज्यसभा में जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल को लेकर वोटिंग करवाई। वोटिंग के बाद बिल पास हो गया। इस बिल के समर्थन 125 वोट पडे हैं। विपक्ष में 61 वोट पडे है। टीएमसी ने वोटिंग का बहिष्कार कर दिया।

इससे पहले गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि यह अधिकार कभी नहीं मिला, इस पर कोई नहीं बोलेगा। घाटी में सिर्फ मुस्लिम रहते हैं क्या, धारा 370 अच्छी है तो सभी के लिए है और बुरी है तो भी सभी के लिए हैं। तीन परिवारों ने जम्मू कश्मीर में लोकतंत्र को पनपने नहीं दिया, लेकिन राष्ट्रपति शासन में वहां शांतिपूर्ण चुनाव हुए हैं। अमित शाह ने कहा कि पंचायत चुनाव में 50 फीसदी से ज्यादा वोटिंग हुई है और वहां की जनता लोकतंत्र चाहती हैं।

गृह मंत्री शाह ने कहा कि इस मौके पर आज मैं हमारे पहले राष्ट्रीय अध्यक्ष श्यामा प्रसाद मुखर्जी को भी याद करना चाहता हूं। उन्होंने कहा कि 41800 लोगों ने जान गंवाई है, अगर धारा 370 न होती तो इन लोगों की जान न जाती। गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि ज्यादतर पर बातें तकनीक पर हुईं जबकि धारा 360 की उपयोगिता पर कोई बात नहीं हुई। इससे क्या हासिल होने वाला है इस पर कुछ बात नहीं हुई है। इसकी वजह से घाटी, लद्दाख और जम्मू कश्मीर के लोगों का नुकसान हुआ है। गृह मंत्री अमित शाह ने राज्यसभा में कहा कि धारा 370 हटने के बाद कश्मीर में रक्तपात बंद हो जाएगा।

Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top