Home > Archived > 80 फीसदी कॉपियों का मूल्यांकन पूरा, शिक्षा मंडल कर सकता है मई के दूसरे सप्ताह में परिणाम घोषित

80 फीसदी कॉपियों का मूल्यांकन पूरा, शिक्षा मंडल कर सकता है मई के दूसरे सप्ताह में परिणाम घोषित

80 फीसदी कॉपियों का मूल्यांकन पूरा, शिक्षा मंडल कर सकता है मई के दूसरे सप्ताह में परिणाम घोषित


भोपाल|
माध्यमिक शिक्षा मंडल मई के दूसरे सप्ताह में 10वीं-12वीं बोर्ड परीक्षाओं का परिणाम घोषित कर सकता है। बोर्ड द्वारा कॉपियों का मूल्यांकन कार्य करीब 80 फीसदी पूरा हो चुका है। दरअसल, 20 मार्च से मूल्यांकन का काम शुरू किया गया था। जिसमें मूल्यांकन के पहले चरण में 18 हजार शिक्षकों ने लगभग 54 लाख कॉपियां जांची। वहीं दूसरे चरण का मूल्यांकन शुरू हो चुका है, जो 25 अप्रैल तक चलेगा।

बता दें कि मध्यप्रदेश में 10वीं बोर्ड की परीक्षाएं 5 मार्च से शुरू होकर 31 मार्च को खत्म हो गई थीं। इसके साथ ही 1 मार्च से शुरू हुई 12वीं की परीक्षा 3 अप्रैल को खत्म हो गई है। माध्यमिक शिक्षा मंडल के सूत्रों के मुताबिक परिणाम मई माह के पहले और दूसरे सप्ताह तक जारी हो जाएगा। पहले 10वीं का परिणाम जारी होगा, उसके बाद 12वीं का परिणाम जारी हो।

सूत्रों के मुताबिक 10वीं का परिणाम 1 मई से 10 मई के बीच और 12वीं का परिणाम 10 से 20 मई के बीच कभी भी जारी हो सकता है। मंडल की गाइड लाइन के अनुसार प्रत्येक शिक्षक प्रतिदिन कम से कम 30 और अधिकतम 40 कॉपियां ही जांच सकते हैं। अभी लगभग 10 लाख कॉपियों का मूल्यांकन बाकी है। केंद्रों पर छुट्टी के दिन भी मूल्यांकन कार्य हो रहा है। इस वर्ष करीब 20 लाख छात्रों ने 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं दी थी। हर मूल्यांकन केंद्र में करीब 700 शिक्षक रोजाना कॉपियां जांच रहे हैं। केंद्रों पर सुबह 10.30 से शाम 6 बजे मूल्यांकन चलता है।

बोर्ड का मानना है कि अगर कॉपियों की जांच की गति इसी तरह चलती रही तो मई के दूसरे सप्ताह तक परिणाम घोषित किया जा सकता है। गौरतलब है कि हाईस्कूल में यह सिस्टम पहली बार लाया गया है। इसमें उन विषयों के अंक जोड़कर परिणाम तैयार किया जाता है, जिनमें विद्यार्थी के सबसे ज्यादा अंक हों। जिस विषय में अंक कम आएंगे, उन अंकों को अंकसूची में नहीं जोड़ा जाएगा। हालांकि इस विषय की परीक्षा दी है, ये अंकसूची में दर्शाया जाएगा।

Share it
Top