Home > Archived > खाड़ी देश जार्डन और भारत के बीच हुआ सांस्कृतिक आदान प्रदान समझौता

खाड़ी देश जार्डन और भारत के बीच हुआ सांस्कृतिक आदान प्रदान समझौता

खाड़ी देश जार्डन और भारत के बीच हुआ सांस्कृतिक आदान प्रदान समझौता


नई दिल्ली । खाड़ी देश जार्डन और भारत के बीच गुरुवार को सांस्कृतिक आदान प्रदान (सीईपी) से जुड़े एक समझौते पर हस्ताक्षर हुए। इस समझौते की अवधि 2018-2022 तक है। इस समझौते के तहत संगीत, नृत्य, थियेटर, प्रदर्शनी, संगोष्ठी, अभिलेखगार, पुस्तकालय, संग्रहालय, साहित्यक, शोध तथा प्रलेखन, विज्ञान संग्रहालय, त्यौहार तथा युवा कार्यक्रमों के क्षेत्र में दोनों देश एक दूसरे का सहयोग करेंगे। यह समझौता जार्डन किंग अब्दुल्ला बिन-अल हुसैन और भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की उपस्थिति में हुआ।

उल्लेखनीय है कि भारत-जॉर्डन के बीच 12 समझौतों पर हस्ताक्षर हुए। ये समझौते जॉर्डन किंग अब्दुल्ला द्वितीय बिन अल हुसैन औेर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की उपस्थिति में हुए।

भारत-जार्डन के बीच व्यापारिक व अन्य समझौतों के साथ ही कला-संस्कृति से जुड़े आयाम पर समझौता इस मायने में महत्वपूर्ण है कि जार्डन एक मुस्लिम राष्ट्र है और भारत की दूसरी सबसे बड़ी आबादी मुस्लिम है। दोनों देशों के बीच संगीत, नृत्य, थियेटर, प्रदर्शनी आदि के आदान प्रदान से संस्कृतियों का भी ज्ञान होगा और आपसी संबंध भी प्रगाढ़ होंगे।

Share it
Top