Home > Archived > वेलेंटाइन डे-फूल बेचने वालों की चांदी

वेलेंटाइन डे-फूल बेचने वालों की चांदी

इंदौर । वेलेंटाइन डे (प्रणय दिवस) पर युवक-युवतियां, महिला-पुरुष अपने प्रेम का इजहार करने गिफ्ट भेंट करते हैं। महंगाई के जमाने में फूल से सस्ता गिफ्ट मिलना संभव नहीं। इसी को देखते हुए गुलाब का फूल लोगों की पहली पसंद बन गया है। इसे देकर वे अपनेपन का एहसास कराते हैं। वेलेंटाइन डे के चलते आज फूल बेचने वालों ने सुबह से जमकर चांदी काटी।

दरअसल आम दिनों में गुलाब के फूल की कली 5 से 10 रुपए में आसानी से मिल जाती है। यही कली वेलेंटाइन डे पर इठलाने लगी है। आज कई बाजार गुलाब के फूलों से महक उठे। गुलाब की कली 20 रुपए, बुके 200 से 1000 रुपए में बेचे जा रहे हैं।
परदेशीपुरा स्थित फूल दुकान के मालिक अमित लिंबोदिया के अनुसार, गुलाब के फूलों की बिक्री का सिलसिला सुबह से शुरू हो गया है। इसकी महत्ता को देखते हुए कल से ही भरपूर स्टाक कर लिया था, ताकि ग्राहक वापस नहीं जा सके। दुकान पर 3 से 4 प्रजातियों के फूल उपलब्ध हैं, लेकिन विशेष आकर्षण का केन्द्र आबरा का डाबरा व सफेद फूल बना हुआ है। जिनके दाम भी अपेक्षाकृत अधिक हैं। इन प्रजातियों के फूलों को बुके में सजावट के लिए रखा जाता है। आमदिनों में बुके 50 से 100 रुपए तक बेचे जाते हैं। वेलेंटाइन डे को देखते हुए बुके में फूलों की संख्या बढ़ाई गई है। विभिन्न प्रजातियों के फूलों से सजे बुके की कीमत 200 से 1000 रुपए तक रखी गई है।
बाजार में गुलाब के फूलों की बिक्री अन्य फूलों की अपेक्षा कम होती है। शौकीन लोग ही गुलाब को लेते हैं। वेलेंटाइन डे को छोड़ शेष दिन गुलाब की बिक्री का आंकड़ा 100 से 200 रुपए तक होता है। चूंकि, वेलेंटाइन डे पर गुलाब देने की परम्परा शुरू हो गई है। इसे देखते हुए एक ही दिन में 200 रुपए का आंकड़ा बढ़कर लाखों में पहुंच जाता है। अन्य दुकानों पर भी गुलाब के फूलों की बिक्री का सिलसिला शुरू हो चुका है। एक अनुमान के मुताबिक, शहर में गुलाब के फूलों व बुके की बिक्री का आंकड़ा लाखों रुपए में पहुंच जाएगा। उधर, हरसिद्धि स्थित फूल मंडी में भी फूल खरीदी के लिए दुकानदारों का जमावड़ा लगा रहा।

Share it
Top