Home > Archived > हाथों में बोतल थामकर लगाए कजरारे -कजरारे पर ठुमके

हाथों में बोतल थामकर लगाए कजरारे -कजरारे पर ठुमके

भाईदौज पर नशे में बहके पुरानी छावनी थाने का स्टाफ

ग्वालियर| आपने अक्सर होली पर पुलिस का यह फरमान तो सुना ही होगा कि होली में शराब पी, तो पुलिस छोड़ेगी नहीं और पूरी रात जेल की हवा खिलाएगी, लेकिन यही पुलिस हाथों में बीयर की बोतल थामकर और विस्की के पैग के साथ थाने में कजरारे-कजरारे गाने पर अश्लील ठुमके लगाते और नशे में गिरते-पड़ते दिख जाएं तो क्या कहेंगे। यह मामला पुरानी छावनी थाने में भाईदौज पर हुई शराब पार्टी के बाद वायरल हुए दो वीडियो में सामने आया है। इस वीडियो के मीडिया में आने के बाद पुरानी छावनी थाने का समूचा स्टाफ सकते में है और इस मामले में कुछ भी बोलने से डर रहा है।

यहां बता दें कि भाईदौज के अवसर पर पुरानी छावनी थाने में होली का त्यौहार पुलिस कर्मियों ने रंग-अबीर के साथ मनाया, लेकिन थाने के पूरे स्टाफ ने नियम-कानून की सारी सीमाएं लांघकर हाथों में बीयर लेकर अश्लील गानों पर ठुमके लगाए।

जिसे देखकर पुलिस के आला अधिकारी भी शर्मसार हो गए। पहला वीडियो 1 मिनट 27 सेकंड और दूसरा वीडियो 26 सेकंड का है। खास बात यह है कि यह वीडियो जिसने शूट किया है, वह इन पुलिस कर्मियों में से ही एक का खास बताया जा रहा है।

लोगों को न पीने की सीख देकर पुलिस नशे में डूबी : बड़े ही हैरत की बात है कि प्रत्येक त्यौहार पर पुलिस विभाग द्वारा आमजन से शराब का सेवन न करने की बात कही जाती है, लेकिन पुलिस खुद इन नियमों का पालन नहीं करती है। इससे साफ जाहिर होता है कि पुलिस कानून का स्वयं उपहास उड़ाती है। यहां बता दें कि होली के दौरान ही शिवपुरी में पुलिस थाने के अंदर अपने साथियों के साथ होली खेल रहे एक पुलिसकर्मी की गोली लगने से मौत हो गई। बताया जा रहा है कि पुलिस थाने के अंदर शराब पार्टी चल रही थी और इसी दौरान अचानक गोली चलने से हवलदार की मौत हो गई थी। इस घटना से भी पुरानी छावनी पुलिस ने सबक नहीं लिया। दो वीडियो के वायरल होने के बाद पुलिस अधिकारियों ने सभी पुलिस कर्मियों पर कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

शराब के नशे में किया हंगामा
वीडियो में सात से आठ पुलिसकर्मी हाथों में बीयर की बोतल लेकर कजरारे-कजरारे गाने पर ठुमका लगाकर अश्लील इशारे कर रहे हैं। वहीं इसमें एक आरक्षक के मना करने के बाद भी उसको जबरन बीयर पिलाई जा रही है। वहीं दूसरी तरफ एक चबूतरे पर शराब की बोतलों की महफिल सजी है। शराब के नशे में धुत पुलिसकर्मी थाने के बाहर जमकर उत्पात मचा रहे हैं। जानकारी के अनुसार जैसे ही वीडियो ग्रुप के माध्यम से पुलिस अधिकारियों के मोबाइल में पहुंचा, उसके बाद पुलिस विभाग में हड़कम्प मच गया। इस मामले में हवलदार थानसिंह, मदन, महेन्द्र आरक्षक लवकुश, राजपाल, प्रदीप, शैलेन्द्र और पुरानी छावनी थाने पर खड़ी होने वाली एम्बुलेंस 108 के चार कर्मचारियों के शामिल होने की बात सामने आई है।

Share it
Top