Home > Archived > अब मनरेगा के कामों में होगा तकनीक का समावेश

अब मनरेगा के कामों में होगा तकनीक का समावेश

अधिकारियों और कर्मचारियों को दिया जाएगा प्रशिक्षण
आगरा।अब मनरेगा के कामों में तकनीकी का समावेश होगा। इससे कामों की गुणवत्ता में सुधार होगा, तो लगातार देखभाल भी होगी। इसके लिए तीन जिलों के 60 अफसरों को तकनीकी गुणवत्ता के लिए प्रशिक्षण दिया जाएगा, चार दिनी प्रशिक्षण में दक्ष होने के बाद यह अफसर ब्लॉक के कर्मचारियों को प्रशिक्षित करेंगे।

महात्मा गांधी ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना(मनरेगा) में बजट बढ़ाने के साथ ही केंद्र सरकार इसको तकनीकी से जोडऩे के लिए प्रयासरत है। करोड़ों की राशि व्यय होने के बाद भी अंजाम हासिल नहीं होने पर केंद्र सरकार ने इसे तकनीकी से जोड़ा है।

इसके लिए केंद्र के ग्रामीण विकास मंत्रालय ने मनरेगा योजना के लिए गठित स्टेट तकनीकी रिसोर्स टीम के कुछ तकनीकी अधिकारियों को मास्टर ट्रेनर के रूप में प्रशिक्षित भी कराया जा चुका है। यह मास्टर ट्रेनर हैदराबाद के एनआइआरडी में बेसिक और एडवांस प्रशिक्षण भी ले चुके हैं। इनमें आगरा से लोक निर्माण विभाग के सहायक अभियंता एसके सारस्वत भी शामिल रहे हैं। अब इसके बाद जिला और ब्लॉक स्तर पर तकनीकी का यह प्रशिक्षण दिया जाएगा। आगरा में इसी महीने होने वाले मंडलीय प्रशिक्षण में तीन जिलों के साठ अधिकारियों को चार दिनी कार्यशाला के दौरान यह तकनीकी प्रशिक्षण दिया जाएगा। जिला तकनीकी टीम में सहायक अभियंता, अवर अभियंता, तकनीकी अधिकारी और सहायक तकनीकी अधिकारी होंगे। प्रशिक्षण का यह चक्र 20 फरवरी से 18 मार्च तक सभी जिलों में चलेगा।

मंडल स्तर पर प्रशिक्षण हासिल करने के बाद यह अधिकारी ब्लॉक में तैनात जेई, एई को प्रशिक्षित करेंगे। मुख्य विकास अधिकारी नगेंद्र प्रताप ने बताया कि मनरेगा के कामों में इस तकनीकी प्रशिक्षण से काफी सुधार आएगा।
अब तक मनरेगा में कच्चे काम भी ऐसे ही कराए जाते थे, तो बंध और अन्य काम भी बिना तकनीकी के होते थे, लेकिन अब ऐसा नहीं हो सकेगा।
गांवों में सड़क, तालाब सुंदरीकरण-सुदृढ़ीकरण, पौधरोपण, स्वच्छ शौचालय के अलावा बाल विकास और सिंचाई विभाग समेत नौ विभागों के कच्चे-पक्के काम मनरेगा से कराए जाएंगे, जिससे ग्रामीणों को रोजगार की अपार संभावनाएं रहेंगी। इससे कामों की सतत निगरानी तो रहेगी ही साथ ही काम की गुणवत्ता में सुधार आएगा।

साठ अधिकारियों को मिलेगा प्रशिक्षण
इसी महीने होने वाले मंडलीय प्रशिक्षण कार्यशाला के दौरान आगरा, फीरोजाबाद और मथुरा के साठ अधिकारी शामिल होंगे। पीडब्ल्यूडी के सहायक अभियंता एसके सारस्वत इनको प्रशिक्षित करेंगे। इसके लिए तारीख तय की जा रही हैं।

Share it
Top