Home > Archived > मैक्स लापरवाही मामला : केस को दबाना चाहती है पुलिस

मैक्स लापरवाही मामला : केस को दबाना चाहती है पुलिस

मैक्स लापरवाही मामला : केस को दबाना चाहती है पुलिस

नई दिल्ली। दिल का दौरा पड़ने के बाद अंत में मैक्स अस्पताल आने पर अस्पताल के द्वारा लापरवाही बरतने के मामले में शालीमारबाग थाना पुलिस लीपीपोती कर रही है। अस्पताल की लापरवाही के बाद मरीज कमलेश चंद शर्मा की मौत हो गई। मामले की तहकीकात से पता चलता है कि मरीज का अॉपरेशन कर तीन स्टंट लगाए जाने के लिए न तो मरीज के किसी परिजन से अनुमति ली गई और न ही मरीज से, जबकि नियम के अनुसार इस प्रक्रिया को अॉपरेशन से पूर्व अपनाया जाना जरूरी है।

इस बीच शालीमारबाग थाने के एसएचओ ऋषिपाल से संपर्क किए जाने पर उन्होंने बताया कि पुलिस मामले को दिल्ली मेडिकल काउंसिल को रेफर कर देगी और काउंसिल ही इस बात को देखेगी कि मामले में अस्पताल की गलती है या नहीं। जब उनसे यह पूछा गया कि अगर अस्पताल अापराधिक लापरवाही बरतता है तो फिर इस मामले को दिल्ली मेडिकल काउंसिल कैसे देखेगी तो वह इसका समुचित जवाब नहीं दे पाए।

इस बीच मरीज कमलेश के परिजन संजय शर्मा ने भी बताया कि पुलिस मामले को दबाना चाहती है क्योंकि मैक्स अस्पताल प्रबंधन में पैसे के बल पर पुलिस को अपने वश में कर रखा है। उल्लेखनीय है कि मृतक के परिजनों से अस्पताल प्रबंधन में भारी भरकम फीस की भी मांग की थी जबकि केंद्र सरकार की ओर से स्टंट के दाम को पिछले साल 80 फीसदी तक घटा दिया गया था। लेकिन, अस्पताल प्रबंधन उस आदेश को मानने के लिए तैयार नहीं है।

Share it
Top