Home > Archived > पटवारी भर्ती परीक्षा : वंचित अभ्‍यार्थ‍ियों को मिलेगा, एक और मौका

पटवारी भर्ती परीक्षा : वंचित अभ्‍यार्थ‍ियों को मिलेगा, एक और मौका

पटवारी भर्ती परीक्षा : वंचित अभ्‍यार्थ‍ियों को मिलेगा, एक और मौका


भोपाल। पटवारी भर्ती परीक्षा के पहले दिन प्रदेशभर से सर्वर डाउन होने की शिकायते आती रहीं, जिसके बाद शनिवार को राज्‍यभर में 8 हजार 866 अभ्यर्थी परीक्षा देने से वंचित रह गए। भोपाल में ऐसे अभ्‍यार्थ‍ियों की संख्‍या 4 हजार 107 रही। ग्‍वालियर में 1 हजार 50 अभ्‍यार्थी परीक्षा नहीं दे पाए तो वहीं इंदौर में यह संख्‍या लगभग 1 हजार के करीब रही। जबलपुर सहित कुल प्रदेश के 16 जिलों में पटवारी के 9 हजार 500 पदों के लिए प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड (पीईबी) द्वारा परीक्षा आयोजित की गई थी । जिसमें कि पहली शिफ्ट में प्रदेश भर के 26 हजार 887 लोगों को परीक्षा में बैठना था। दोनों शिफ्ट मिलाकर कुल 53 हजार 774 परीक्षार्थियों की परीक्षा होनी थी। इस बीच दूसरी शिफ्ट में 4 हजार 258 अभ्यर्थी अनुपस्थित बताए गए।

यह परीक्षा सर्वन की कमजोरी और आधार से परीक्षार्थी की सही पहचान न होने के कारण से कई अभ्‍यार्थ‍ियों को निराशा में डुबो गई, जिसके चलते कई नाराज अभ्यर्थियों ने केंद्रों पर जमकर हंगामा किया। बताया जा रहा है कि जो अभ्‍यार्थी सर्वन डाउन के कारण से परीक्षा नहीं दे पाए, उन्‍हें एक अवसर और दिया जाएगा। ऐसे सभी लोगों की आगे परीक्षा 29 दिसम्‍बर के बाद आयोजित की जाएगी।

प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड में परीक्षा नियंत्रक एकेएस भदौरिया का कहना है कि आधार वेरिफिकेशन नहीं होने के कारण से जो अभ्‍यार्थी परीक्षा नहीं दे पाए हैं, उनके बारे में बोर्ड गंभीर है उनके लिए बोर्ड दोबारा परीक्षा कराने पर विचार करेगा, आगे यह परीक्षा 29 दिसंबर के बाद होगी। बोर्ड ऐसे परीक्षा से वंचित परीक्षार्थियों के लिए अलग से सूचना जारी करेगा । वहीं, बोर्ड की ओर से बताया जा रहा है कि सर्वर डाउन की समस्या सर्विस प्रोवाइडर एजेंसी के स्तर पर ही हुई है। प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड ने अपनी स्‍तर पर ऑनलाइन परीक्षा कराने के लिए टीसीएस कंपनी की सेवाएं ली हैं।

Share it
Top