Home > Archived > नई शिक्षा नीति का ड्राफ्ट दिसम्बर अंत तक : जावड़ेकर

नई शिक्षा नीति का ड्राफ्ट दिसम्बर अंत तक : जावड़ेकर

नई शिक्षा नीति का ड्राफ्ट दिसम्बर अंत तक : जावड़ेकर

नई दिल्ली। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा है कि नई शिक्षा नीति का ड्राफ्ट दिसम्बर अंत तक जारी किया जाएगा। उन्होंने कहा कि शिक्षा नीति के ड्राफ्ट पर संसद में चर्चा के बाद इसे लागू कर दिया जाएगा। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने रविवार को अहमदाबाद में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में पत्रकारों के सवालों के जवाब में यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि नई शिक्षा नीति का ड्राफ्ट दिसम्बर अंत तक आएगा उसके बाद उस पर चर्चा (संसद) होगी और फिर वह अमल में आएगी। उन्होंने कहा कि 2020 से 2040 तक के दो दशकों के लिए एक आदर्श शिक्षा नीति तैयार की जा रही है। यह देश में शिक्षा क्षेत्र में सुधार की दिशा में मील का पत्थर साबित होगी।


जवड़ेकर ने बताया कि भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के पूर्व अध्यक्ष डॉ के कस्तूरी रंगन की अध्यक्षता में एक आठ सदस्यीय टीम बनी है, जो यह नीति तैयार कर रही है। इस टीम की दो दिवसीय पांचवीं बैठक दो दिन पहले ही हुई थी। टीम के मुताबिक दिसम्बर के अंत तक शिक्षा नीति का पहला डाफ्ट प्रस्तुत किया जाएगा। जावड़ेकर ने कहा कि निश्चित रूप से ये शिक्षा नीति आने वाले 20 सालों को देश को अगले पायदान पर ले जाने वाली है।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि यह एक नई दृष्टि देने वाली नीति है। यह आधुनिक सोच और विज्ञान, तकनीक और जीवन के मूल्य सभी में बढ़ोत्तरी करने वाली है। इसका उद्देश्य देश में अच्छे नागरिकों को तैयार करना है। शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार के लिए यह अनुसंधानवर्धक शिक्षा नीति है। ढाई साल से सभी दलों के सांसदों और विधायकों के साथ ही शिक्षा क्षेत्र से जुड़े लोगों, छात्रों, अभिभावकों व स्कूल संचालकों के सुझावों पर विचार कर यह नीति तैयार की जा रही है।

Share it
Top