Top
Latest News
Home > Archived > डबल मर्डर का आरोपी जयकुमार को सीपीएम ने बनाया शाखा सचिव

डबल मर्डर का आरोपी जयकुमार को सीपीएम ने बनाया शाखा सचिव

डबल मर्डर का आरोपी जयकुमार को सीपीएम ने बनाया शाखा सचिव

तिरुवनंतपुरम। सीपीआई (एम) ने भाजपा कार्यकर्ता विमला देवी और रामकृष्णन के हत्या के मामले में प्रथम आरोपी रहे एम. जयकुमार को पल्ल्कंद जिले के चादेंकायी शाखा की कम्युनिस्ट पार्टी का शाखा सचिव नियुक्त किया है। जयकुमार, डबल मर्डर के अतिरिक्त छह अन्य आपराधिक मामलों में भी आरोपित है और छह महीने तक जेल में रहने के बाद हाल ही में जेल से बाहर आया है।

उल्लेखनीय है कि सीपीआई (एम) के लोगों के एक समूह ने कथित तौर पर विमला देवी और रामकृष्णन को घर के अंदर ही गैस सिलेंडर में आग लगाकर घर को जला दिया था और जघन्य हत्या कर दी थी। दोनों ही सक्रिय भाजपा कार्यकर्ता थे।

भाजपा केरल अध्यक्ष कुममानम राजशेखरन ने कहा - (एम) द्वारा बार-बार इस तरह के फैसले लिए जा रहे है और यह साबित हो रहा है कि अपराधी रहना ही माकपा के लिए नेता बनाए जाने के लिए प्रमुख मानदंड बन गया है। उन्होंने कहा कि केरल के मुख्यमंत्री और सीपीआई (एम) के पोलित ब्यूरो के सदस्य पिनाराययी विजयन भी आरएसएस स्वयंसेवक वादिकल रामकृष्णन की हत्या में अभियुक्त हैं औ| सीपीआई (एम) के राज्य सचिव और पोलित ब्यूरो के सदस्य कोदियारी बालाकृष्णन भी एक अन्य आरएसएस स्वयंसेवक करिम्बिल सथिशन की हत्या के आरोपी हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि माकपा अपने पार्टी कार्यकर्ताओं को ज्यादा से ज्यादा गंभीर अपराध करने को प्रोत्साहन देती है और अपराध करने वाले को पार्टी का पदाधिकारी बनाकर उन्हें प्रोत्साहित करती है । जयकुमार को दिया गया शाखा सचिव का पद उत्कृष्ट उदाहरण है, जो पार्टी के आदर्श को प्रदर्शित कर रहा है |

सिर्फ भाजपा ही नहीं बल्कि केरल के विपक्ष के नेता और कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता रमेश चेन्निथला ने भी हिन्दुस्थान समाचार से बात करते हुए जयकुमार के मामले पर विरोध जताया और कहा कि सीपीआई (एम) की करतूतों से बार-बार यह साबित हो रहा है कि माकपा मजदूरों की पार्टी नहीं रही बल्कि अपराधियों की पार्टी बन गयी है और वह कुख्यात अपराधियों को ही पदों पर अधिकारी बना रही है और अधिक से अधिक अपराधियों को ही पार्टी में प्रोत्साहित कर रही है। जयकुमार के मामले पर माकपा के पदाधिकारी से प्रतिक्रिया लेने की कोशिश की गयी मगर उनसे कोई संपर्क नहीं हो सका।

Next Story
Share it
Top