Home > Archived > लॉटरी प्रणाली के आधार पर भूमिहीन परिवारों को वितरित की गयीं बकरियां

लॉटरी प्रणाली के आधार पर भूमिहीन परिवारों को वितरित की गयीं बकरियां

साईं ज्योति संस्था व नाबार्ड ने लगाया शिविर

ललितपुर। आज विकास खण्ड जखौरा के ग्राम बम्हौरीकलां, नैगांव में साई ज्योति संस्था व नावार्ड के सहयोग संचालित समेकित आदिवासी विकास कार्यक्रम अन्तर्गत बकरी बैंक के माध्यम से बकरी वितरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें 20 भूमिहींन परिवारों को उनकी आजीविका सुनिश्चित करने हेतु लाटरी सिस्टम द्वारा 3-3 बकरी प्रत्येक परिवार को दी गयी। ग्राम बम्हौरीकलां व नैगांव में 10-10 परिवारों से सहयोग की शुरूआत की गई है।

कार्यकर्ता सिद्धगोपाल सिंह ने बताया गया कि एकीकृत आदिवासी विकास कार्यक्रम का संचालन विकास खण्ड जखौरा के आदिवासी बाहुल्य गॉवो में किया जा रहा है जिसमें भूमिहींन परिवारों को बकरी बैंक से जोडा गया है। प्रत्येक परिवार को 3-3 बकरी उपलब्ध कराने के पश्चात 2 साल के अन्दर उक्त परिवार से 3-3 बकरी वापिस ली जायेगी। वापस ली गई बकरी उसी गॉव में अन्य भूमिहींन परिवारो को उपलब्ध करायी जायेगी। बकरी वितरण की पारदर्शिता व सहभागिता को ध्यान में रखते हुये लाटरी सिस्टम प्रणाली से बकरी वितरित की गयी। कार्यक्रम में उपस्थित संस्था के रमन शर्मा ने बताया कि जनपद ललितपुर के विकास खण्ड जखौरा के आदिवासी गरीब परिवारों को बकरी बैंक से जोडा गया है जिससे उनका आर्थिक व सामाजिक स्तर ऊचा किया जा सके। उनके द्वारा कार्यक्रम में उपस्थित बकरी पाने वाले पात्र प्रतिभागियों से पूछा कि आप कोई से क्या फायदा है बहुत से साथियों ने कहा कि बकरी से जन्मे नर बच्चो को बाजार में बेंचने के पश्चात बैंक में एकाण्ट खोलकर अपने धन का संचय करेंगे और आवश्यकता पडने पर रोजमर्रा की जरूरतो को पूरा करेंगे।

रमन शर्मा ने कार्य की सराहना करते हुये आदिवासी परिवारों से अपेक्षा की कि सामूहिक रूप से आदिवासी का प्रत्येक परिवार इस कार्यक्रम से जुडे तथा पूरा लाभ ले। साथ ही बैंक से जुडे जो भी काम होंगे अगर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो मैं सहयोग के लिए तत्पर रहूंगा। बताया कि बकरी वितरण के उपरान्त बकरी प्रबन्धन पर पूरा काम किया जायेगा। जिससे समय-समय पर बकरियों का टीकाकरण व दवा संस्था द्वारा उपलब्ध करायी जायेगी।

Share it
Top