Home > Archived > अपहरण की साजिश रचने वाला चढ़ा पुलिस के हत्थे

अपहरण की साजिश रचने वाला चढ़ा पुलिस के हत्थे

हाथरस। कोतवाली सिकन्द्राराऊ क्षेत्र के गांव गढिया इकबालपुर निवासी जलनिगम कर्मचारी के बेटे द्वारा अपने साथियों से बदला लेने के लिए रचे गये अपहरण के ड्रामे का आज भण्डाफोड हो गया तथा पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।


पुलिस कार्यालय पर आज उक्त अपहरण काण्ड का खुलासा करते हुए पुलिस कप्तान डा. अजयपाल शर्मा ने पत्रकारों को बताया कि कोतवाली सिकन्द्राराऊ में साहब सिंह पुत्र सियाराम द्वारा गत 26 फरवरी को रिपोर्ट दर्ज करायी गई कि सिकन्द्राराऊ से घर वापस आते वक्त जीटी रोड पर मण्डी समिति के पास इण्डिका कार सवार 4 लोग उसके पुत्र आशीष व उसके साथी हरकेश की बाइक में टक्कर मारकर आशीष को गाडी को डालकर अपहरण कर ले गये हैं।


रिपोर्ट में अवधेश पुत्र चन्द्रपाल उर्फ चन्द्रप्रकाश निवासी गांव फुलरई व उसके साथियों को नामजद किया गया।पुलिस कप्तान ने बताया कि आशीष की बरामदगी हेतु पुलिस टीमें बनाकर छानवीन व दबिशें दी गई है और तभी कल आशीष के पिता द्वारा कोतवाली पुलिस को सूचना दी गई कि आशीष ने फोन पर अपने आपको पटना पक्षी बिहार के रास्ते बिजलीघर पर होना बताया है। जिस पर पुलिस ने तत्काल वहां पहुंच उसे बरामद कर लिया और पूछताछ में आशीष ने बताया कि वह अपनी मर्जी से खुद ही चला गया था तथा अवधेश से चलते विवाद के कारण ही उसने उसे फंसाने के लिए मनगढन्त कहानी तैयार की।

पुलिस कप्तान ने बताया कि आशीष 2014 में गांव की एक लडकी के अपहरण में जेल जाने व उसकी जेल में अपराधियों की संगत में रहने से उसके दिमाग में यह खुरापात आयी। पुलिस कप्तान ने बताया कि उक्त मामले में फर्जीवाडा कर ड्रामा करने वाले आशीष के खिलाफ कार्यवाही होगी साथ ही फर्जी तरीके से सिम बेचने वालों के खिलाफ भी कार्यवाही की जायेगी। प्रेसवार्ता के दौरान सीओ सिटी प्रीति सिंह व सिकन्द्राराऊ कोतवाली प्रभारी ए.के. सिंह भी मौजूद थे।

Share it
Top