Home > Archived > केरल के मेडिकल कॉलेज में रैगिंग के मामले में 21 मेडिकल स्टूडेंट्स सस्पेंड

केरल के मेडिकल कॉलेज में रैगिंग के मामले में 21 मेडिकल स्टूडेंट्स सस्पेंड

केरल के मेडिकल कॉलेज में  रैगिंग के मामले में 21 मेडिकल स्टूडेंट्स सस्पेंड


नई दिल्ली|
केरल के मेडिकल कॉलेज में एक बार फिर रैगिंग की घटना सामने आई है। मल्लापुरम जिले के मेडिकल कॉलेज की 21 मेडिकल छात्राओं को 40 जुनियर स्टूडेंट्स की शिकायत के बाद सस्पेंड कर दिया गया है। ये मामला उस घटना के दो दिन बाद सामने आया है जिसमें दो स्टूडेंट्स को जबरदस्ती घंटों शराब पिलाकर उनके कपड़े उतारे गए थे। 40 स्टूडेंट्स को अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है।

कॉलेज प्रशासन ने एमबीबीएस के सीनियर छात्रों के खिलाफ कड़े कदम उठाने की तैयारी कर ली है। जुनियर स्टूडेंट्स ने इन सीनियर स्टूडेंट्स के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है कि सीनियर स्टूडेंट्स ने उनके साथ रैगिंग की। रैगिंग के नाम पर उनसे लड़कों के टॉयलेट साफ कराए और कपड़े भी उतारने को कहे। स्टूडेंट्स का आरोप है कि सीनियर्स ने उन्हें जबरदस्ती टॉयलेट का गंदा पानी तक पीने को कहा।

कॉलेज ऑथोरिटी ने मामले की जांच के लिए एक टीम तैयार की है। इसी टीम ने सैंकेड और थर्ड ईयर के स्टूडेंट्स को बाहर निकालने का फैसला किया है। खबर ये भी है कि मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया भी इस मामले में कड़े कदम उठा सकता है।

कॉलेज का एफिलेशन भी रद्द हो सकता है। पिछले दिनों भी रैगिंग का एक ऐसा ही मामला सामने आया था। इस बीच, खबर आई कि एक मेडिकल स्टूडेंट जो पहले रैगिंग का शिकार हुई थी, उसकी किडनी फेल हो गई है। कॉलेज प्रशासन को कॉलेज के अंदर क्या हो रहा है कुछ भी पता नहीं था, जब तक पुलिस ने पूरे मामले की पड़ताल करके उन्हें नहीं बताया तब तक वे चुप बैठे थे।

Share it
Top