Home > Archived > हिन्दुस्तान पेट्रोलियम डिपो में बम, दस्ते ने किया निष्क्रिय

हिन्दुस्तान पेट्रोलियम डिपो में बम, दस्ते ने किया निष्क्रिय

ग्वालियर। रायरू स्थित हिंदुस्तान पेट्रोलियम डिपो में गुरूवार को बम रखे जाने की सूचना मिलने पर डिपो प्रशासन अलर्ट हो गया। सूचना पर समूची डिपो में सनसनी फैल गई। इसकी सूचना थाने से कंट्रोल रूम में दी गई। बम निरोधक दस्ता डिपो पहुंचा और पौने घण्टे की तलाशी के बाद मिले बम को कड़ी मशक्कत के बाद बम को डिफ्यूज किया। इस बम मिलने की सूचना पर रायरू से लेकर पुरानी छावनी तक दहशत का माहौल व्याव्त रहा। बाद में यह मामला मॉक ड्रिल का निकला। बताया जाता है कि रायरू स्थित हिंदुस्तान पेट्रोलियम डिपो में कन्ट्रोल रूम में फोन आया कि ऑयल डिपो में बम रखा जा चुका है और जल्द ही इस डिपो को उड़ा दिया जाएगा। इसकी सूचना पर तुरंत ही डिपो में सुरक्षा हूटर बजाकर सभी को सतर्क किया गया। डिपो प्रबन्धक ने अपने सुरक्षा अधिकारियों को बम ढूंढने के लिए लगा दिया और बम निरोधक दस्ते को भी सूचित किया गया।

बीडीएस दल ने दिखाई बम खोजने की तत्परता
मॉक ड्रिल में बम निरोधक दस्ते खोजी श्वान के साथ पुलिस दल ने ऑयल डिपो पहुंचा और डिपो परिसर में तलाशी अभियान शुरू कर दिया। संयुक्त दल ने तीन टुकडिय़ों में बंटकर डिपो के अलग-अलग क्षेत्र में बम को ढूंढने का कार्य प्रारंभ किया। बम निरोधक दस्ते के संयुक्त दल ने लगभग पौन घण्टे की तलाशी अभियान के बाद डिपो के प्रशासनिक भवन से थोड़ी दूर बने मैदान में तेल से भरे वाहन में लगे बम को ढ़ूंढ निकाला। खोजी श्वान द्वारा इंगित किए गए स्थान पर दल के सदस्य पहुंचे और उसे डिफ्यूज किया। बम के डिफ्यूज करने के बाद सभी ने राहत की सांस ली। बाद में यह पूरा मामला सुरक्षा के तहत की गई मॉक ड्रिल का निकला।

वाहनों की आवाजाही भी रोकी
रायरू स्थित हिंदुस्तान पेट्रोलियम डिपो में मॉक ड्रिल के दौरान आगरा-मुंबई बाइपास पर पुलिस ने वाहनों को रोक दिया। इस कारण से वाहनों की लंबी लाइनें लगना शुरू हो गई। पुलिस के जवानों ने हर्डल लगाकर वाहनों को रोका। मॉक ड्रिल समाप्त हुई उसके बाद यातायात खोला गया। इधर रायरू और पुरानी छावनी थाना को भी मॉक ड्रिल के दौरान अलर्ट रहने को कहा गया था। इस दौरान वरिष्ठ पुलिस अधिकारी भी मौजूद रहे।

Share it
Top