Top
Latest News
Home > Archived > डॉ.पापरीकर का निधन मेरी निजी क्षति: तोमर

डॉ.पापरीकर का निधन मेरी निजी क्षति: तोमर

ग्वालियर। सांसद व केन्द्रीय पंचायती राज, पेयजल-स्वच्छता,भू-संसाधन एवं ग्रामीण विकास मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने वरिष्ठ स्वतंत्रता संग्राम सेनानी, पूर्व महापौर डॉ.रघुनाथ राव पापरीकर के निधन पर गहरा शोक व्यक्त करते हुए कहा है कि उनके निधन का समाचार सुनकर लगा कि हमारे सिर से पालक का साया उठ गया। डॉ.पापरीकर ने एक राजनैतिक दल के कार्यकर्ता होने के साथ-साथ सामाजिक और राष्ट्रीय मूल्यों को ही सर्वोपर्रि समझा।

शहर के विकास, पीडि़त मानवता की सेवा, सांस्कृतिक, आध्यात्मिक और राष्ट्रवादी विचारों को आगे बढ़ाने में उनकी भूमिका अनुकरणीय है। डॉ.पापरीकर के उदार व्यक्तित्व, रचनात्मक कृतित्व, सहृदयता, समाज के प्रति समर्पण ने लोगों को बहुत प्रभावित किया। मेरे मन में उनके प्रति अगाध श्रद्धा थी, वे भी हमेशा मुझे पुत्रवत सानिध्य देते रहे। आज उनका हमारे बीच न रहना एक बड़ी-अपूर्णीय रिक्तता का अनुभव और मेरे लिए यह निजी क्षति है, जिसे पूर्ण करना संभव नहीं है।

डॉ.पापरीकर ने अपूर्ण जीवन को कृतित्व से पूर्ण कर जीवन यात्रा को सार्थकता प्रदान की है, जो अनुकरण के योग्य है। प्रभु से प्रार्थना है कि दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करे।

Next Story
Share it
Top