Home > Archived > अनियंत्रित डग्गेमार बस ने महिला को रौंदा, मौत

अनियंत्रित डग्गेमार बस ने महिला को रौंदा, मौत

अनियंत्रित डग्गेमार बस ने महिला को रौंदा, मौत

आक्रोशित लोगों ने बस को किया आग के हवाले, पुलिस को व्यवस्था बनाने के लिए करना पड़ा बल का प्रयास

मथुरा। हाइवे थाना क्षेत्र अंतर्गत गोवर्धन चौराहे पर अनयंत्रित डग्गेमार बस ने एक महिला को रौंद दिया। दुर्घटना में महिला की मौके पर ही मौत हो गई। घटना से गुस्साये लोगों ने जाम लगाकर बस को आग के हवाले कर दिया। घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने लोगों को रोड से हटाने के लिए कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। पुलिस द्वारा हल्का बल प्रयोग भी किया गया।

मिली जानकारी के अनुसार बल्देव के गांव छौली निवासी मदन की 55 वर्षीय पत्नी भगवान देवी रविवार सुबह अपने गुरूजी के भण्डारे में शामिल होने गोवर्धन गयी हुई थी। दोपहर को जब वह वापस लौट रही थी तो गोवर्धन चौराहे पर उतर गयी। वह हाइवे क्षेत्र स्थित गोवर्धन चौराहे से पैदल कृष्णानगर की ओर आ रही थी। जैसे ही वह पुल के नीचे पहुंची तभी एक डग्गेमार बस के चालक ने तेजी व लापरवाही से चलाते हुए उन्हें रौंद दिया।

दुर्घटना में भगवान देवी की मौके पर ही मौत हो गई। यह देख स्थानीय लोगों का गुस्सा भडक़ गया क्योंकि डग्गेमार वाहनों से आये दिन दुर्घटनाएं होती रहती हैं। उन्होंने बस को पकड़ लिया लेकिन चालक बचकर भाग निकला। सूचना मिलते ही मृतका के परिजन भी यहां पहुंच गये। आक्रोशित लोगों ने पहले तो रोड पर जाम लगाया और फिर बस को आग के हवाले कर दिया। घटना की सूचना पर कई थानों का फोर्स मौके पर पहुंचा। खुद एसपी सिटी आलोक प्रियदर्शी भी मौके पर पहुंच गये। पुलिस द्वारा आक्रोशित लोगों को समझाने का काफी प्रयास किया गया लेकिन आक्रोशित लोग शांत होने का नाम नहीं ले रहे थे तो पुलिस को कडा रूख अख्तियार करना पडा। जाम को हटाने के लिए पुलिस ने हल्का बल प्रयोग भी किया।

कुछ स्थानीय लोगों के सहयोग से पुलिस आक्रोशित लोगों को समझाने में कामयाब रही। करीब डेढ़ घण्टे अफरा-तफरी का माहौल रहा। पुलिस ने बस व उसके चालक के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर कार्यवाही शुरू कर दी है। पुलिस द्वारा जाम लगाने व बस को आग के हवाले करने वाले युवकों की पहचान कर उनके खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करने की बात कह रही है। पुलिस ने मृतका के शव का पंचनामा भर पोस्टामार्टम के लिए भेजा।

ट्रैफिक कर्मियों से आक्रोशित हैं लोग
मथुरा। गोवर्धन चौराहे पर जाम लगा बस को फूंकना मात्र महिला की मौत के कारण नहीं हुआ। यहां लोगों में ट्रैफिक कर्मियों के खिलाफ काफी पहले से आक्रोश भरा हुआ था। गोवर्धन चौराहा या मंडी चौराहा या फिर भूतेश्वर चौराहा यहां पर ट्रैफिक पुलिस कर्मियों द्वारा चैकिंग के नाम पर अवैध कमाई का अड्डा बना लिया है। गोवर्धन चौराहे पर तो जमकर वसूली की जाती है। यहां इन पुलिसकर्मियों की मदद से डग्गेमार वाहन ओवर लोडिंग चला रहे हैं। डग्गेमार वाहनों द्वारा कानून को ताक पर रखकर वाहनों को चलाया जा रहा है और यह पुलिसकर्मी आखें मूंदकर उन्हें अपना समर्थन दे रहे हैं।

Share it
Top