Home > राज्य > अन्य > पश्चिम बंगाल > टिकट ना मिलने पर बागी हुए तृणमूल नेता, ममता ने दिखाया बाहर का रास्ता

टिकट ना मिलने पर बागी हुए तृणमूल नेता, ममता ने दिखाया बाहर का रास्ता

टिकट ना मिलने पर बागी हुए तृणमूल नेता, ममता ने दिखाया बाहर का रास्ता
X

कोलकाता। तृणमूल कांग्रेस ने कोलकाता नगर निगम (केएमसी) के चुनाव में पार्टी की टिकट न मिलने के बाद भी निर्दलीय चुनाव लड़ने वाले सच्चिदानंद बनर्जी और तनीमा चटर्जी को पार्टी से निकाल दिया है। यह जानकारी तृणमूल कांग्रेस ने बुधवार को एक बयान जारी कर दी है। बयान में कहा गया है कि तनीमा चटर्जी दिवंगत राज्य के पंचायत मंत्री सुब्रत मुखर्जी की बहन हैं। नगर निगम के वार्ड 85 से तनीमा चटर्जी और वार्ड नंबर 72 से सच्चिदानंद निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव मैदान में हैं। पार्टी लाइन के विपरीत चलने पर दोनों के खिलाफ अनुशासनहीनता के आरोप में कार्यवाही की गई है।

इस संबंध में नगर के 85 नंबर वार्ड से तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार और मेयर परिषद के पूर्व सदस्य देवाशीष कुमार ने बताया कि पार्टी लाइन से परे हटकर तनीमा ने नामांकन दाखिल किया था। नगर निगम के 72 नंबर वार्ड से सच्चिदानंद बनर्जी भी निर्दलीय उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं। उन्होंने बताया कि दोनों को नामांकन वापस लेने के लिए निर्देश दिया गया था लेकिन इन दोनों ने नामांकन वापस नहीं लिया था।उल्लेखनीय है कि दोनों बागी उम्मीदवार पहले ही तृणमूल कांग्रेस की कार्यशैली पर सवाल खड़े कर चुके थे।दोनों का आरोप है कि पार्टी ने ऐसे व्यक्तियों को उम्मीदवार बनाया है, जिनका जनाधार नहीं है।

Updated : 8 Dec 2021 11:40 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top