Top
Home > राज्य > अन्य > पश्चिम बंगाल > भारतीय लोकतंत्र का खूबसूरत पहलू मुख्यमंत्री चुनाव हार गई और मजदूरी करने वाली महिला जीत गयी

भारतीय लोकतंत्र का खूबसूरत पहलू मुख्यमंत्री चुनाव हार गई और मजदूरी करने वाली महिला जीत गयी

भारतीय लोकतंत्र का खूबसूरत पहलू मुख्यमंत्री चुनाव हार गई और मजदूरी करने वाली महिला जीत गयी
X

कोलकाता। प. बंगाल में 292 सीटों पर हुए विधानसभा चुनाव में जनता इने तृणमूल कांग्रेस को तीसरी बार सत्ता की चाबी सौंप दी है। इस चुनाव में लोकतंत्र की दो तस्वीरें देखने को मिली। एक ओर जहां बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अपना चुनाव हार गई। उसी चुनाव में मनरेगा मजदूर भाजपा प्रत्याशी ने जीत दर्ज कर सबको चौंका दिया।

दरअसल, बंगाल के सलोतरा से झोपड़ी मे रहने वाली मनरेगा श्रमिक भाजपा प्रत्याशी चन्दना बाउरी जी को जीत मिली है। इनकी ये जीत भाजपा के अंत्योदय ही लक्ष्य के उद्देश्य को साकार करता है। भाजपा प्रत्याशी चंदना बाउरी ने तृणमूल उम्मीदवार को 4145 वोटों से मात दी है। इस सीट पर भाजपा, टीएमसी और सीपीएम तीनों ही पार्टियों ने अपना प्रत्याशी बदला था। चंदना बाउरी के पति दिहाड़ी मजदूरी करते है। उनकी दैनिक आय 400 रूपए है। चंदना बाउरी ने नामांकन भरते समय उन्होंने बैंक खाते में सिर्फ 6335 रुपए हैं जबकि उनके पति के खाते में महज 1561 रुपए जमा होने की जानकारी दी।


Updated : 2 May 2021 5:09 PM GMT
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top