Home > राज्य > अन्य > पश्चिम बंगाल > बंगाल में मंत्रियों के बीच बंटे विभाग, ममता ने रखे गृह और स्वास्थ्य मंत्रालय

बंगाल में मंत्रियों के बीच बंटे विभाग, ममता ने रखे गृह और स्वास्थ्य मंत्रालय

बंगाल में मंत्रियों के बीच बंटे विभाग, ममता ने रखे गृह और स्वास्थ्य मंत्रालय
X

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में सोमवार को मंत्रियों के शपथ लेते के बाद आज ही उनके बीच विभागों का बंटवारा हो गया है। इस बार भी मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अपने पास राज्य का गृह, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय, भूमि और भूमि सुधार विभाग, शरणार्थी कल्याण और पुनर्वास विभाग, सूचना और संस्कृति विभाग तथा उत्तर बंगाल विकास विभाग रखा है। इसके अलावा सुब्रत मुखर्जी को पंचायत और ग्रामीण विकास विभाग के साथ-साथ जन स्वास्थ्यिकी विभाग भी दिया गया है। पार्थ चटर्जी से इस बार शिक्षा मंत्रालय ले लिया गया है और इसकी जगह उन्हें उद्योग, इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी और संसदीय कार्य विभाग सौंपा गया है।

अमित मित्रा को वित्तमंत्रालय -

अमित मित्रा को पूर्ववत वित्त व उद्योग विभाग का मंत्री बरकरार रखा गया है। साधन पांडे को एक बार फिर उपभोक्ता तथा स्वयं सहायता समूह मंत्रालय दिया गया है। ज्योतिप्रिय मल्लिक से खाद्य विभाग वापस ले लिया गया है और उन्हें वन तथा ऊर्जा मंत्रालय सौंपा गया है। बंकिम चंद्र हाजरा को सुंदरबन विकास विभाग दिया गया है जबकि मानस रंजन भुइयां को जल स्रोत विकास विभाग दिया गया है। सोमेन महापात्रा को सिंचाई और जलमार्ग विभाग का मंत्रालय सौंपा गया है। जबकि मलय घटक को एक बार फिर राज्य का कानून और पब्लिक वर्क्स डिपार्टमेंट दिया गया है। अरूप विश्वास को ऊर्जा तथा युवा कल्याण और खेल मंत्रालय सौंपा गया है।

ब्रात्य बसु को शिक्षा मंत्रालय -

उज्ज्वल विश्वास को एक बार फिर कारागार विभाग का मंत्री बनाया गया है जबकि अरूप रॉय को कॉपरेटिव डिपार्टमेंट, रथिन घोष को खाद्य प्रसंस्करण मंत्रालय, फिरहाद हकीम को ट्रांसपोर्ट और हाउसिंग विभाग दिया गया है। चंद्र नाथ सिन्हा को माइक्रो स्मॉल एंड मीडियम एंटरप्राइजेज तथा टेक्सटाइल विभाग सौंपा गया है। शोभन देव चट्टोपाध्याय को कृषि मंत्रालय दिया गया है जबकि ब्रात्य बसु को शिक्षा मंत्रालय मिला है। पुलक रॉय को पब्लिक हेल्थ इंजीनियरिंग, डॉ शशि पांजा को महिला और बाल विकास मंत्रालय, गुलाम रब्बानी को अल्पसंख्यक विकास और मदरसा शिक्षा विभाग की जिम्मेदारी सौंपी गई है। जबकि विप्लव मित्रा को कृषि विपणन विभाग दिया गया है। जावेद अहमद खान को एक बार फिर राज्य में आपदा प्रबंधन और सिविल डिफेंस का मंत्री बनाया गया है जबकि स्वपन देवनाथ को प्राणी संपदा विकास मंत्रालय सौंपा गया है। सिद्दीकुल्ला चौधरी को पुस्तकालय विभाग का मंत्री बरकरार रखा गया है।

Updated : 2021-10-12T16:12:54+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top