Home > राज्य > अन्य > पश्चिम बंगाल > चुनाव के बाद ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल में लगाया कोरोना कर्फ्यू, ये रहेंगी पाबंदियां

चुनाव के बाद ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल में लगाया कोरोना कर्फ्यू, ये रहेंगी पाबंदियां

चुनाव के बाद ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल में लगाया कोरोना कर्फ्यू, ये रहेंगी पाबंदियां
X

कोलकाता। राज्य में लगातार तीसरी बार मुख्यमंत्री का पद संभालने के बाद ममता बनर्जी ने कोरोना पर नियंत्रण करने के लिए बंगाल में आंशिक लॉकडाउन लगाने की घोषणा की है।गुरुवार से बंगाल में सभी लोकल ट्रेनों के संचालन बंद रखने और शॉपिंग मॉल, स्पा, जिम आदि को अनिश्चितकाल के लिए बंद करने का फैसला किया गया है। राज्य में हर तरह के सामाजिक, सांस्कृतिक और राजनीतिक कार्यक्रमों पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है। सार्वजनिक परिवहन में और मेट्रो में आधी संख्या में यात्रियों को बैठाया जाएगा।

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी शपथ लेने के बाद सीधे राज्य सचिवालय नवान्न‌ पहुंचीं। यहां पत्रकार वार्ता के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि हालांकि अभी बंगाल में संपूर्ण लॉकडाउन नहीं लगाया जा रहा है, लेकिन कई पाबंदियां रहेंगी। लोगों को बिना वजह घरों से निकलने की छूट नहीं रहेगी और जरूरी कार्यवश निकलने पर मास्क पहनना अनिवार्य होगा है।

ये पाबंदियां रहेगी -

उन्होंने बताया कि सरकारी दफ्तरों में 50 फ़ीसदी उपस्थिति और शादी विवाह के लिए अनुमति लेने और कार्यक्रम में दोनों पक्षों के केवल 50 लोग ही शामिल हो सकेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में सुबह 7 बजे से 10 बजे तक और शाम को 5 बजे से 7बजे तक ही बाजार खुले रहेंगे। सोना-चांदी और अन्य आभूषणों की दुकान दोपहर 12 से 3 बजे तक खुल सकेंगे। रेस्तरां और बार को भी अनिश्चित काल के लिए बंद किया गया है। उन्होंने बताया कि हवाई जहाज, ट्रेन और अंतरराज्यीय बसों में सफर करने के लिए कोरोना निगेटिव रिपोर्ट होनी चाहिए। उन्होंने कि राज्य सरकार राज्य के 2.76 लाख निजी डॉक्टरों की भी मदद लेगी। ग्रामीण क्षेत्रों के कोविड गाइडलाइन जल्द ही जारी की जायेगी। उन्होंने इस वर्ष रवींद्र जयंती भी वर्चुअल माध्सम से ही मनाने की घोषणा की है।

डेढ़ करोड़ लोगों को लग चुकी है वैक्सीन -

ममता बनर्जी ने दावा किया कि राज्य में अब तक डेढ़ करोड़ लोगों को वैक्सीन दी जा चुकी है। सरकार ने तीन करोड़ वैक्सीन का आर्डर दिया है। राज्य में फिलहाल 27 हजार बेड है और अतिरिक्त संख्या में बेड बढ़ाने की पहल शुरू की गई है।

Updated : 2021-10-12T16:13:35+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top