Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > वाराणसी > वाराणसी: रेल इंजन कारखाना में बना कोविड कंट्रोल रूम

वाराणसी: रेल इंजन कारखाना में बना कोविड कंट्रोल रूम

महाप्रबंधक के निर्देश पर बरेका में कोविड कंट्रोल रूम बनाया गया है। जिसके माध्यम से बरेका चिकित्सालय को आवश्यक सहयोग दिया जा रहा है।

वाराणसी: रेल इंजन कारखाना में बना कोविड कंट्रोल रूम
X

वाराणसी: बरेका महाप्रबंधक अंजली गोयल कोविड-19 के प्रसार की रोकथाम के लिए संकट की इस घड़ी में लगातार उच्चाधिकारियों के साथ दूरभाष के माध्यम से समीक्षा कर रही हैं। महाप्रबंधक के निर्देश पर बरेका में कोविड कंट्रोल रूम बनाया गया है। जिसके माध्यम से बरेका चिकित्सालय को आवश्यक सहयोग दिया जा रहा है।

समीक्षा के उपरांत केंद्र सरकार के दिशानिर्देशानुसार एक मई से 18 वर्ष से अधिक के उम्र के सभी व्याक्तियों का टीकाकरण किये जाने के संबंध मे गुरुवार को बरेका में उच्चाधिकारियों ने बैठक कर कोविड-19 की जांच एवं टीकाकरण अभियान की गति को और तेज करने पर जोर दिया।

तदोपरांत प्रमुख मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. सुजीत मल्लीक, उप महाप्रबंधक विजय एवं उप मुख्य यांत्रिक इंजीनियर मुकेश ओझा, सहायक सुरक्षा आयुक्त दीपक सिंह चौहान एवं जन सम्प,र्क अधिकारी राजेश कुमार ने संयुक्त रूप से बरेका कर्मचारी क्लब का निरीक्षण किया। जहां केंद्रीय अस्पताल के चिकित्सकों की निगरानी व पैरामेडिकल स्टाफ के सहयोग से प्रत्येक कार्य दिवस के दौरान कर्मचारियों व इनके आश्रितों के साथ ही साथ शहर के आम नागरिकों का भी टीकाकरण किया जा रहा है। बरेका में टीकाकरण अभियान को और तेज करने के लिए रजिस्ट्रेशन एवं टीकाकरण काउंटरों की संख्या को बढ़ाये जाने का निर्णय लिया गया।

विदित हो कि एक फरवरी 2021 से राष्ट्रीय टीकाकरण अभियान की शुरुआत के साथ ही बरेका में टीकाकरण कार्यक्रम शुरू हो गया है। जिसमें रेलवे के साथ ही गैर रेलवे व्यक्तियों को प्रथम एवं दि्वतीय डोज लगातार दिया जा रहा है।

केंद्र सरकार के दिशानिर्देशानुसार 18 वर्ष से अधिक के उम्र के सभी व्यक्तियों का टीकाकरण करने के लिए बरेका में संपूर्ण तैयारी की जा रही है। साथ ही बरेका में संक्रमित व्यक्तियों की पहचान के लिए बरेका केंद्रीय चिकित्सालय एवं कर्मशाला स्थल पर त्वरित गति से कोविड एंटिजन एवं आरटीपीसीआर दोनो प्रकार का टेस्ट किया जा रहा है। जिससे सं‍क्रमित लोगों की आसानी से पहचान कर उचित उपचार किया जा सके एवं कोविड-19 के संक्रमण के फैलने से रोका जा सके।

Updated : 22 April 2021 3:36 PM GMT
Tags:    

Swadesh Lucknow

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top