Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > वाराणसी > वाराणसी: बरेका केंद्रीय चिकित्सालय में 610 एलपीएम का ऑक्सीजन प्लांट जल्द देगा मरीजों को सांस

वाराणसी: बरेका केंद्रीय चिकित्सालय में 610 एलपीएम का ऑक्सीजन प्लांट जल्द देगा मरीजों को सांस

अस्पताल में जल्द ही 610 एलपीएम के ऑक्सीजन प्लांट का इन्स्टालेशन का काम शुरू होगा। इससे प्लांट 105 बेडों पर मरीजों को ऑक्सीजन देने लगेगा। इस प्लांट के लगने से कोविड मरीज़ राहत की साँस ले सकेंगे।

वाराणसी: बरेका केंद्रीय चिकित्सालय में 610 एलपीएम का ऑक्सीजन प्लांट जल्द देगा मरीजों को सांस
X

वाराणसी: बनारस रेल इंजन कारखाना की महाप्रबंधक अंजली गोयल के नेतृत्व में कोरोना को मात देने के लिए केंद्रीय अस्पताल बरेका में ऑक्सीजन युक्त बेडों की संख्या बढ़ाने के लिए लगातार जुटी है।

अस्पताल में जल्द ही 610 एलपीएम के ऑक्सीजन प्लांट का इन्स्टालेशन का काम शुरू होगा। इससे प्लांट 105 बेडों पर मरीजों को ऑक्सीजन देने लगेगा। इस प्लांट के लगने से कोविड मरीज़ राहत की साँस ले सकेंगे।

जिला प्रशासन के पूर्ण सहयोग से 105 बेड वाले केंद्रीय अस्पताल बरेका में सीएसआर के माध्यम से 610 एलपीएम की क्षमता का ऑक्सीजन उत्पादन संयंत्र स्थापाना के लिए कानपुर स्थित शुभम गोल्डी मसाला कंपनी ने रु 88 लाख की पेशकश की है।

ऑक्सीजन प्लांट आपूर्तिकर्ता मेसर्स समिट्स हाईग्रोनिक्स प्रा.लिमिटेड, कोयम्बटूर, तमिलनाडु है एवं प्लांट की स्थापना के लिए आवश्यक इलेक्ट्रिकल और सिविल कार्य बनारस रेल इंजन कारखाना में लोको निर्माण करने वाले कुशल अनुभवी इंजीनियरों व टेक्निकल टीम द्वारा किया जाएगा। बरेका कोरोना से लड़ने के लिए सभी तरह के उपाए कर रहा है।

दवा, बेड, ऑनलाइन परामर्श, कोविड के दवाओं की किट, सेनिटाइज़ेशन, होम आइसोलेशन में चिकित्सीय सुविधा ऑक्सीजन समेत मरीजों के इलाज के लिए बरेका महाप्रबंधक अंजली गोयल के दिशा निर्देशन में बेरका चिकित्सीय टीम युद्ध स्तर पर दिन रात प्रयास कर रही है।

महाप्रबंधक का प्रयास है कि केंद्रीय रेल अस्पताल ऑक्सीजन के लिए आत्मनिर्भर हो जाएगा जिससे गंभीर मरीजों को राहत मिलने लगेगी ।

Updated : 8 May 2021 6:56 PM GMT
Tags:    

Swadesh Lucknow

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top