Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > अन्य > औरैया: कोरोना से मुक्ति के लिए यमुना मैया की हुई महाआरती

औरैया: कोरोना से मुक्ति के लिए यमुना मैया की हुई महाआरती

इस दौरान महाआरती का भव्य आयोजन किया गया। समिति के सदस्यों ने लोगों की सुख-समृद्धि व सलामती के लिए यमुना मैया से प्रार्थना की।

औरैया: कोरोना से मुक्ति के लिए यमुना मैया की हुई महाआरती
X

औरैया: एक विचित्र पहल सेवा समिति ने रविवार सुबह पर कोरोना महामारी से मुक्ति एवं उसके समूल नाश हेतु यमुना मैया की पूजा की। इस दौरान महाआरती का भव्य आयोजन किया गया। समिति के सदस्यों ने लोगों की सुख-समृद्धि व सलामती के लिए यमुना मैया से प्रार्थना की।

यमुना तट पर स्थित राम झरोखा में कोरोना काल में अपनी अनवरत सेवा में समर्पित रहे नगर के दिवंगत लोगों को अपनी गाड़ी से अंत्येष्टि स्थल तक पहुंचाने वाले शव यात्रा वाहन के चालक बाबाजी एवं निर्भीकता के साथ अंत्येष्टि स्थलों की प्रतिदिन अनवरत साफ सफाई कर अधजले शवों की पूर्ण अंत्येष्टि करने वाले रज्जन बाल्मीकि जैसे योद्धाओं व ग्राम पंचायत खानपुर के नवनिर्वाचित प्रधान शफीक खान (मुन्ना हाफिज) को माल्यार्पण एवं उपहार भेंटकर अभिनंदन किया गया।

कोरोना काल में दिवंगत यमुना तट पर जनहित में अपनी निधि से निर्माण कार्य कराने वाले विधायक रमेश दिवाकर को समिति के सदस्यों ने भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की। समिति के संस्थापक आनन्द नाथ गुप्ता एडवोकेट ने बैठक में बताया कि करोड़ों लोगों की आस्था का केंद्र यमुना का जल निरंतर प्रदूषण होता चला जा रहा है। जल संरक्षण के अंतर्गत उन्होंने लोगों से यमुना नदी में अधजले शवों, मृत पशुओं, अपशिष्ट, हवन सामग्री व खंडित मूर्तियों को जमुना जल में न डालने की अपील करते हुए जिला प्रशासन से यमुना को प्रदूषित करने वाले लोगों पर आवश्यक कार्यवाही की मांग की है।

समिति के संस्थापक ने आगामी कार्यक्रमों के संबंध में बताया कि आगामी 5 जून विश्व पर्यावरण दिवस के पावन अवसर पर पर्यावरण गोष्ठी का आयोजन व जीवनधारा पौधारोपण अभियान प्रारंभ किया जायेगा, जिसके अंतर्गत यमुना तट, मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारा, स्कूल पार्क, विद्यालय, सार्वजनिक स्थान, सड़क मार्ग आदि स्थानों पर सर्वाधिक आक्सीजन देने वाले पौधों का पौधारोपण किया जायेगा।

बैठक के समापन पर अंत्येष्टि स्थलों की प्रतिदिन सफाई करने वाले सफाई कर्मी रज्जन बाल्मीकि को यमुना घाट सेवा समिति के सदस्य गुरमीत सिंह द्वारा दो हजार रुपया मासिक वेतन प्रदान किया गया। बैठक में प्रमुख रूप से मनीष पुरवार (हीरू), हरमिंदर सिंह कोहली, आदित्य पोरवाल, दिलीप पत्रकार, अर्पित गुप्ता, सभासद छैया त्रिपाठी, कपिल गुप्ता, रानू पोरवाल, केशवानंद, सभासद पंकज मिश्रा, आनन्द गुप्ता (डाबर), सतीश पोरवाल, मुबीन खां, राम सिंह निषाद, रज्जन बाल्मीकि आदि सेवादार मौजूद रहे।

Updated : 31 May 2021 11:06 AM GMT
Tags:    

Swadesh Lucknow

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top