Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > अन्य > सीतापुर: दूसरे दिन भी मतगणना रही जारी, देर रात तक खिलते और मुरझाते रहे चेहरे

सीतापुर: दूसरे दिन भी मतगणना रही जारी, देर रात तक खिलते और मुरझाते रहे चेहरे

देर रात तक मतगणना चलती रही और परिणाम घोषित होते रहे ज्यादातर स्थलों पर शांतिपूर्वक तरीके से ही गणना संपन्न हुई। कुछ जिला पंचायत सदस्यों के परिणाम भी घोषित हुए।

सीतापुर: दूसरे दिन भी मतगणना रही जारी, देर रात तक खिलते और मुरझाते रहे चेहरे
X

सीतापुर (राहुल मिश्र): पंचायत चुनाव में दूसरे दिन भी देर शाम शाम तक मतगणना जारी। देर रात तक मतगणना चलती रही और परिणाम घोषित होते रहे ज्यादातर स्थलों पर शांतिपूर्वक तरीके से ही गणना संपन्न हुई। कुछ जिला पंचायत सदस्यों के परिणाम भी घोषित हुए।

जिले भर हिंसा की कोई भी खबर सामने नहीं आई। कई स्थानों पर कोविड-19 के नियमों का खुला उल्लंघन होता दिखाई दिया। प्रत्याशियों की भीड़ भी देखने को मिली। जिले के कुल 19 ब्लाकों में लगभग 75 प्रतिशत परिणाम घोषित हो चुके थे। बता दें कि पदों के लिए खबर लिखे जाने तक मतगणना जारी रही।

सूचना विभाग के अनुसार 557 चक्र पूरे हो चुके थे, जिसके साथ 1078 ग्राम पंचायतों में प्रधान के लिए, 978 क्षेत्र पंचायत सदस्यों, 3781 ग्राम पंचायत सदस्यों और 10 जिलापंचायत सदस्यों की पूर्ण मतगणना हो चुकी थी।


दूसरे दिन एआरओ की तबियत बिगड़ी

मिश्रिख/सीतापुर। पंचायत चुनाव के दूसरे दिन मतगणना मे तैनात एआरओ का स्वास्थ्य खराब होने पर ही ड्यूटी करते रहे। आर ओ द्वारा हीला हवाली बरती गई। खराब स्वास्थ्य के कारण भी ए आर.ओ रवी कुमार को आराम नहीं करने दिया गया। बाद में वे स्वयं ही पडोस की बेंच पर लेट गये कुछ जीते प्रत्याशियों द्वारा विरोध करने पर आर वो द्वारा चिकित्सा टीम द्वारा परिक्षण करवाने पर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मिश्रिख भेजा गया।

काटें की टक्कर में सिर्फ एक वोट से हुई मात

गोंदलामऊ/सीतापुर। गोंदलामऊ की महमदपुर झबरा में काटें की टक्कर देखने को मिली। प्रधान पद पर विजयी प्रत्याशी श्यामा कुमार द्विवेदी ने 219 मत प्राप्त किये। वही इनके प्रतिद्वंदी चंद्रेश सिंह अंकुर को 218 मत प्राप्त हुए। चंद्रेश सिंह अंकुर की मात्र 1 वोट से हार हो गयी। जिससे उनके सर्मथकों में निराशा और श्यामा कुमार द्विवेदी के खेमे में खुशी देखने को मिली।


सिर्फ 1 वोंट से जीत

विगत 2015 के पंचायत चुनाव में मात्र 41 मतों से परास्त होने बावजूद हार न मानकर पूरे पांच वर्षों तक अपने पति मुनीर अहमद अंसारी एवं पुत्र मुशीर व फहीम के साथ लोगों की सेवा करते हुये इस बार फिर से जहांगीराबाद ग्राम पंचायत में प्रधानी का चुनाव लड़कर ऐतिहासिक जीत का परचम फहराया है। इस बार उन्होंने 1827 रिकॉर्ड मतों से जीत दर्ज की। 7000 से अधिक मतदाताओं की बिसवां ब्लॉक की सबसे बड़ी ग्राम पंचायत में इस चुनाव में कुल पड़े 5116 मतों में अकेले 60 प्रतिशत से अधिक 3155 मत प्राप्त कर इतिहास रचा है। उनके निकटतम प्रतिद्वंद्वी सोनी को मात्र 1328 मत ही मिल सके। पिछले चुनाव में जीत हासिल करने वाली पू्र्व ग्राम प्रधान शमा परवीन अंसारी को इस बार मतदाताओं ने सिरे से नकार दिया उन्हें मात्र 364 मत प्राप्त हुये।


निकला जुलूस उड़ी कोविड गाइडलाइन की धज्जियां, वीडियो वायरल

ब्लॉक परसेंडी ग्राम पंचायत परसेंडी से प्रधान पद प्रत्याशी अनूप कुमार सिंह ने का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसे उनके समर्थकों ने खुद ही वायरल किया। वीडियों में जीत के बाद डीजे बजता दिखाई दे रहा है जिसमें सैकड़ों लोग नाचते हुए दिखाई दे रहें। एक तरफ तो इन्होंने शासन के निर्दोशों की जमकर धज्जियां उड़ाईं क्योंकि चुनाव आयोग ने निर्देश दिया था कि कोई विजय जुलूस नहीं निकलेगा साथ ही उन्होनंे कोरोना महामारी को भी दावत दी है।

सपा समर्थित जिला पंचायत सदस्य के तीन उम्मीदवार जीते, देर रात तक जारी रही मतगणना


जिला पंचायत सदस्य के पदो की मतगणना देर रात तक चलती रही। समाचार लिखे जाने तक महमूदाबाद क्षेत्र के जिला पंचायत सदस्य पद के 3 वार्डों के नतीजे घोषित हुए। इन तीनों पर सपा समर्थित उम्मीदवारों ने जीत हासिल की है। देर रात तक वोटों की गिनती जारी रही। निवर्तमान जिला पंचायत अध्यक्ष जितेन्द्र यादव, भाजपा समर्थित प्रत्याशी से पीछे चल रहे है।

महमूदबाद विकास खण्ड में एक बार फिर वर्मा बधुंओं ने अपनी ताकत का अहसास करा दिया है। पूर्व मंत्रीव ध्विधायक नरेन्द्र वर्मा व उनक भाई पूर्व जिला पंचातय अध्यक्ष महेन्द्र सिंह वर्मा ने ब्लाक के तीनों सीटो पर सत्ता का सफूड़ा साफ कर दिया है। पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष महेन्द्र वर्मा की पत्नी विजय वर्मा महमूदाबाद की वार्ड संख्या 69 से, समाजवादी पार्टी समर्थित प्रत्याशी ओमकार वर्मा की माता विद्यावती, सपा समर्थित प्रत्याशी महेदई भार्गव ने जीत हासिल की है। इसके अलावा कई वार्डों के प्रत्याशी जीत की ओर अग्रसर हैं। वार्ड संख्या 71 में पूर्व विधायक महेन्द्र सिंह झीन बाबू के पुत्र सपा समर्थित प्रत्याशी दीपेन्द्र सिंह पवन भाजपा प्रत्याशी दिनेश पाण्डे से सात हजार से अधिक वोटों से आगे चल रहे है।

बेहटा विकास खण्ड में भाजपा प्रत्याशी रामजीवन जायसवाल सपा प्रत्याशी से आगे चल रहे थे। वार्ड 29 से निर्दलीय सुमित शुक्ला, 30 से सपा के चंद्रप्रभा, 31 से सपा के अशोक भार्गव, 32 से गंगाराम, 50 से भाजपा के दीपक शुक्ला, 49 से निर्दल लाल विक्रम सिंह, वार्ड 6 से हरगोविंद यादव, 11 से भाजपा की अनीता देवी, 12 से मेनका वर्मा, 10 से सपा के मनोज गुप्ता, 54 से सपा के शाहनवाज, 55 से निर्दल वीरेंद्र रावत, 74 से भाजपा के शिव कुमार गुप्ता अपने प्रतिद्वंदी से बढ़त बनाए हुए थे।

समाचार लिखे जाने तक वोटों की गिनती जारी थी। खैराबाद संवाददाता के अनुसार ग्राम पंचायत अकबरंगज रानी पत्नी शकील, गंगापुर उल्फत सराय गुड्डू, करियामऊ कन्हैया लाल, इलसिया ग्रंट में राजेश कुमार, बद्रीपुर मंसूरपुर में गुडिया देवी, पकरिया में शकील खान, टेढ़वा चिलौला अवधेश कुमार, मुलाहिमपुर में विपिन, अकोइया में रामनरेश,दहेलिय श्रीरंग में श्यामा देव, मखुवापुर चैबेपुर संतराम, नैपालापुर अंजली गुप्ता, खपूरा विश्वनाथ यादव, कैथाभारी मायादेवी, असोढ़र शकीलखान, मूसेपुर बल्देव सिंह जगदीश यादव, अकबपुर छंगा, अहाताकप्तान रामनरायन शुक्ला, अकबरपुर मकदूम पुर उमादेवी, जौनपुर सोहरैया से श्यामलाल चुनाव जीते है।


बॉक्स में निकली कम वोट उम्मीदवार नाराज

गोंदलामऊ ब्लॉक क्षेत्र के मरेली गांव के प्रधान प्रत्याशी ने वोटों की गिनती में गड़बड़ी का आरोप लगाया है। आरोप है की जब वोटों का बक्सा सील किया गया था। तब उसमें 674 वोट होने की बात उसे पीठासीन अधिकारी द्वारा बताई गई थी, लेकिन जब गिनती शुरू हुई तो उसमें 618 वोट ही निकले हैं। इसको लेकर प्रधान प्रत्याशियों ने विरोध जताया है। जिसके चलते फिलवक्त वोटों की गिनती का काम रोका गया है। देर शाम डीएम व एसपी मतगणना केन्द्र पर पहुंचकर जांच पड़ताल कर अभिकर्ताओ ंव प्रत्याशियों से वार्ता की।


खुली मिली मतदान पेटी

पहला ब्लॉक क्षेत्र के लौना ग्राम पंचायत के प्रत्याशियों ने मतगणना कर्मचारियों से विरोध जताया है। आरोप है कि मतदान पेटी चुनाव के बाद सील कर दी जाती है, लेकिन जब मतगणना के दौरान पेटी वोटों की गिनती के लिए लाई गई तो उसकी सील खुली हुई थी। जिसके चलते वहां मौजूद प्रत्याशियों ने इसका विरोध किया।


जीत का प्रमाण पत्र देने के बाद अब मांग रहे वापस

महमूदाबाद ब्लॉक क्षेत्र के चतुरा बेहड़ की एक महिला बीडीसी सदस्य के साथ अजीबोगरीब घटना हुई है। बीडीसी सदस्य का चुनाव जीती सुशीला वर्मा के पति का आरोप है कि उनकी पत्नी चुनाव जीत गई। जीतने के बाद उन्हें प्रमाण पत्र भी दे दिया गया और वह जीत हासिल कर अपने घर आ गई। आरोप है कि इसके बाद एक दरोगा व पुलिसकर्मी उनके घर पहुंचे और उनको दोबारा मतगणना स्थल पर बुलाया गया है। उनसे कहा गया है कि वोटों की गिनती दोबारा होगी। यह सुनकर महिला प्रत्याशी व उसका पति परेशान है। इन लोगों ने उच्चाधिकारियों से भी इसकी शिकायत की है।


यह दिग्गज हारे चुनाव

प्रधान पद पर भाजपा के पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के जिला अध्यक्ष रामजीवन जायसवाल की पत्नी ममता जीवन जायसवाल ग्राम पंचायत औरंगाबाद विकास खण्ड बेहटा से प्रधान पद के उम्मीदवार थे वह चुनाव हार गई है। इनके परिवार में बीते बीस साल से प्रधानी थी। खैराबाद की ग्राम पंचायत कनवाखेड़ा में किसान संगठन के जिलाध्यक्ष हाजी रिजवान पूर्व प्रधान महराज ंिसंह यादव से चुनाव हार गए है। इसी तरह नैपालापुर ग्राम पंचायत से कई वर्षाें से प्रधान पद काबिज पंकज लोधी की पत्नी चुनाव हार गई है।


डीएम एसपी रहे भ्रमणशील


निष्पक्ष व कोविड गाइड के अनुसार पंचायत चुनाव की मतगणना संम्पन्न हो। इसके लिए डीएम विशाल भारद्वाज व एसपी ाआर पी सिंह पूरा दिन भ्रमण कर मतगणना स्थलों का निरीक्षण किया। इस दौरान अधिकारियों ने मतगणना कार्मिकों को शीघ्र व निष्पक्ष मतगणना करने के निदेश दिएं।


मतगणना में धांधली का आरोप

महोली (सीतापुर)। कोरोना संक्रमण से जूझ रहे पंचायत चुनाव के प्रत्याशियों को अब मतगणना में धांधली की समस्या से भी जूझना पड़ रहा है। जहां एसडीएम पंकज राठौर फोन नहीं रिसीव करते हैं तो आरो अंबरीष श्रीवास्तव ने बताया कि सहमत होने पर मतगणना कराई जाएगी। सोमवार को तहसील के विकासखंड महोली की ग्रामसभा हरदासपुर में मतगणना के दौरान एजेंट और प्रत्याशियों की गैर मौजूदगी में एक बक्से की मतगणना मनमाने ढंग से कराकर जबरन मतपत्रों को पेटी में भर देने का मामला प्रकाश में आया है। ग्रामसभा के मतगणना एजेंटों द्वारा मामले में की जा रही धांधली गर्दी पर आपत्ति करने से मतगणना के दौरान अधिकारियों द्वारा अभद्रता की गई। प्रत्याशियों द्वारा मामले की शिकायत शिकायत निर्वाचन आयोग तथा जनपद के जिलाधिकारी से की गई है। जिसमें ग्रामसभा के प्रत्याशियों और एजेंटों ने धांधली गर्दी की आशंका के चलते पुनर्मतदान कराए जाने का अनुरोध किया है और साथ ही मतगणना एजेंटों ने अधिकारियों पर जबरन लाठीचार्ज करवाने और मतगणना स्थल से बाहर कर दिए जाने की धमकी का आरोप लगाया है।

वहीं तहसील के एलिया ब्लॉक के जगना गांव में पड़े कुल मतों की संख्या से तकरीबन 147 मत पहले बक्से में कम निकले। जिसकी शिकायत एलिया ब्लाक के एआरओ से की गई और रिकाउंटिंग का अनुरोध किया गया। जिस पर रिटर्निंग ऑफिसर ने रीकाउंटिंग कराने के लिए मना कर दिया और मतगणना स्थल से बाहर कर देने की धमकी दे डाली।

इस तरह की तमाम घटनाएं इस त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में आई है। एसडीएम महोली की लचर कार्यशैली के चलते लोगों को संतोषजनक रिलीफ नहीं मिल पा रही है। ऐसे में यह पंचायत चुनाव के नतीजे निष्पक्ष तथा सत्यपरक होंगे यह कहना जरा मुश्किल प्रतीत हो रहा है।


जीते प्रधान प्रत्याशियों के नाम एक नजर में

महमूदाबाद संवाददाता के अनुसार- विकास खंड महमूदाबाद की 76 ग्राम पंचायतों के नवनिर्वाचित प्रधान निम्न वत हैं- अंगेथुआ से भगवती प्रसाद, अहिबनपुर से चांदनी देवी, कंज खेड़ा से नियाज अली,गोड़ाईचा से शुचि देवी, बकन्हुआ से चमेली देवी, अगैया से प्रेमचंद्र, जाफरपुर से बृजेश कुमार, बघा इन से प्रेमचंद्र, भिटौरा से चेतराम, मालसराय से राजरानी, जयराम पुर से शाहीन, इचैली से गणेशराम, गुलरामऊ से प्रदीप , इनायतपुर से किशोरी लाल, पहा डा पुर से रामखेलावन, बनिगवा से सुनीता वर्मा, भुसना से चुन्नू लाल, शिव रुख कलां से अवधेश , सरैया चला कपूर से आशा देवी, उनेरा से राम सिंह, उस्मानपुर से दीपक कुमार, पचदेवरा चैबे से सर्वेश कुमार, मंझिगवा 1 से श्री चन्द्र, सिहरुखे डा से पूनम देवी, रमद्वारी 2 से सत्येन्द्र कुमार , कलु आ पुर से प्रेमा, कासा से रीता मिश्रा, गोधौरा से सुषमा देवी, मदारीपुर से कामिनी देवी, लोधासा से मीरा देवी, सुकाई पुर से रोहित सिंह, किशुनपुर से सत्य प्रकाश, देवरिया से सोनम, मुड़ेरा से हुस्ना परवीन, मिश्रीखा से ममता यादव, खपुरा से नीता देवी, रमद्वा री 1 से राजू, कुंसडा से कामिनी देवी, छंगापुर से दयाराम, केदारपुर से आलम आरा, मुबारकपुर से शशि वर्मा, भरहर मऊ से अशोक कुमार, रेवान से सुरेश कुमार, लेल कलां से रमेश , चतुराबेहड़ से विकास चन्द्र, कोठिला से उषा देवी, नीबा डेहरा से अंजना देवी, बखारी कलां से सावित्री देवी, शेषपुर से ओवेश हैदर, रज पारा पुर से चन्द्र देवी, लच्छीपुर से करीना, हेले पारा से सावित्री देवी, सदर पुर से खुस्नूर बानो, हरैया से जयप्रकाश, लालपुर से सुशील, टिक रा से विक्रम सिंह, नवीगंज से शिव देवी, भौरी से रमेश, बेह टी से सोबरन लाल, साहपुर से मनो रमा, कंडी चांदपुर से रेनू देवी, हाजी पुर से शाशिलता, मंझिगंवा 2 से नफिशा, सोहरी या से सुर शती, सहिनपुर खेरिया से पूनम यादव, शिवपुर देवरिया से कुसुम लता, सेमरा से किशोरी लाल, रसूलाबाद से अंजू वर्मा, पोखरा कलां से दया शंकर, बमभोरी से अरविंद, धरमपुर से जबिया बेगम, नाथूपुर से शोभा देवी, मोहम्मद पुर निष्फी से अनिल प्रधान पद हेतु विजयी घोषित किए गए।

मिश्रिख संवाददाता के अनुसार- ग्राम पंचायत अकबरपुर से रूबिया खातून, बिनौरा से सत्यम वैश्य, चन्द्रावल से विकास यादव, कुतुबनगर से गीता देवी, परसपुर से कुलदीप सिंह, नरसिधौली से वेदप्रकाश, गोहिलारी से मन्नो देवी, अर्थापुर से सुरेंद्र कुमार, आंट से महफूज अली, अटवा से अनीता, कोहरावा से मुनीशा, गोपलापुर से सोमवती, देवगवाँ से गुड्डी देवी, जसरथपुर से रामपाल, नरायनपुर से राजकुमारी,ततरोई से सविता,गुलरिहा से शुश्मा तिवारी,ठाकुरनगर से दिलीप गुप्ता,इन्डलवलग्रंट से जयदेवी,टेडवा से कैलाश,जिहुरा से मंजू ,मनिकापुर से राजेन्द्र,परसौली से सुमन मौर्या,पनाहनगर से ज्ञानेन्द्र,दधनामऊ से कन्हैया लाल,मानपुर से रिंकी,इस्लामनगर से रामकिशोर, नीमसार देहात से विनीत मिश्रा,ढल्लिया से सन्तोष तिवारी,रहिमाबाद से हरजीत कुमार,भिखनापुर से निशा देवी,बिजौली से संजय राठौर,शिवथान से बिटाना,फूलपुर झरिया से सत्यपाल ,फुलरुवा से रामनाथ यादव,मुडियारा से रुकमणी देवी,,बेलहिया से जितेन्द्र गुप्त,सुल्ताननगर से सविता,नेवदिया से छोटकन्ने विजयी घोषित हुए।

Û बेहटा संवाददाता के अनुसार- कस्बे के केपीएस महाविद्यालय में चल रही मतगणना बहुत ही धीमी रफ्तार से चल रही है। दोपहर दो बजे तक 14 न्यायपंचायतो में सभी कक्षों में एक या दो बक्सो के मतपत्रों की गिनती की जा सकी है। बिसवांखुर्द न्यायपंचायत की प्रथम चक्र में ग्राम पंचायत अकबरपुर का दो बजे तक एक बक्सा ही खोलकर गिना जा सका। कोविडकाल में ऐसी सुस्त रफ्तार से तमाम प्रत्याशी व एजेंट परेशान हैं, अगर गणना इसी तरह चली तो सभी परिणाम सोमवार देर रात तक ही मिल सकने की उम्मीद है। ग्रा.पं. अकबरपुर में सरवर जहां पत्नी जुनेद अहमद, मुगलपुर से सियाराम, बेहटा से नेहा वर्मा विजयी हुए।

ऐलिया संवाददाता के अनुसार-क्लार्कनगर से शमशेर अली ने 51 मतों से जीत प्राप्त की, कुचकापुर में मनोज राठौर ने जीत हांसिल की।

Updated : 3 May 2021 3:30 PM GMT
Tags:    

Swadesh Lucknow

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top