Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > अन्य > उत्तर प्रदेश राज्य निर्वाचन आयोग ने की पुष्टि, इस साल नहीं होंगे पंचायत चुनाव

उत्तर प्रदेश राज्य निर्वाचन आयोग ने की पुष्टि, इस साल नहीं होंगे पंचायत चुनाव

उत्तर प्रदेश राज्य निर्वाचन आयोग ने की पुष्टि, इस साल नहीं होंगे पंचायत चुनाव

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में होने वाले पंचायत चुनाव की तैयारी शुरू हो गई है। राज्य निर्वाचन आयोग ने इस बाबत मंगलवार को विस्तृत कार्यक्रम जारी किया। राज्य निर्वाचन आयुक्त मनोज कुमार की ओर से जारी इस कार्यक्रम के अनुसार आगामी पहली अक्तूबर से बूथ लेबल आफिसर (बीएलओ) घर-घर जाकर वोटर लिस्ट की जांच करेंगे। 29 दिसंबर को वोटर लिस्ट का प्रकाशन होगा। ऐसे में अब कंफर्म हो गया है कि इस साल पंचायत चुनाव नहीं होंगे।

वोटर लिस्ट पुनरीक्षण का यह अभियान करीब साढ़े तीन महीने चलेगा। अभियान के तहत पिछले पंचायत चुनाव यानि वर्ष 2015 के बाद से पहली जनवरी 2021 तक 18 वर्ष की उम्र पूरी करने वाले ग्रामीण युवाओं को पंचायत चुनाव की वोटर लिस्ट में नए वोटर के रूप में दर्ज किया जाएगा। इसी के साथ इस अवधि में मृत, अन्यत्र स्थानांतरित या डुप्लीकेट वोटरों के नाम हटाए भी जाएंगे। अपर निर्वाचन आयुक्त वेद प्रकाश वर्मा ने कहा कि 15 से 30 सितम्बर के बीच यह जांच की जाएगी कि किस ग्राम पंचायत का आंशिक भाग, अन्य ग्राम पंचायत अथवा नगरीय निकाय में शामिल हुआ है। ऐसी सूरत में उस ग्राम पंचायत के आंशिक भाग या ग्राम पंचायत को प्रदेश की ग्राम पंचायतों की सूची से हटाया जाएगा। इसके साथ ही वोटर लिस्ट पुनरीक्षण के लिए बीएलओ और पर्यवेक्षकों को उनके कार्यक्षेत्र का आवंटन किया जाएगा। यह दोनों काम अलग-अलग समानांतर चलेंगे।

Updated : 15 Sep 2020 2:35 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top