Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > अन्य > बलरामपुर: राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने बालिका शिक्षा पर दिया जोर

बलरामपुर: राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने बालिका शिक्षा पर दिया जोर

राज्यपाल ने आश्वासन दिया कि इमिलिया कोडर में थारू जनजाति के लिए राजभवन या उत्तर प्रदेश सरकार अपनी पूरी मदद करेगी.

बलरामपुर: राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने बालिका शिक्षा पर दिया जोर
X

बलरामपुर/वैभव। उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल बलरामपुर जिले के तुलसीपुर तहसील में स्थित इमलिया कोडर के महाराणा प्रताप इंटर कॉलेज एवं दीनदयाल शोध संस्थान अपने एक दिवसीय दौरे पर पहुंची। यहाँ संस्थान परिसर में आयोजित थारु जनजातीय सांस्कृतिक कार्यक्रम में राज्यपाल ने शिरकत की। पूर्व से तय कार्यक्रम के अनुसार राज्यपाल महोदया ने संस्थान में नवीन निर्मित कंप्यूटर लैब का उद्घाटन करते हुए थारु जनजाति की छात्राओं व महिलाओं से मुलाकात की। कार्यक्रम में थारु जनजाति की छात्राओं व महिलाओं द्वारा लगाई गयी प्रदर्शनी का अवलोकन भी किया।

उपजाति पर आरक्षण से होगी समस्या

अपने दौरे पर राज्यपाल महोदया ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि प्राथमिक शिक्षा जन्म के बाद तीन चार वर्ष से मिले तो वह बेहतर है। इससे बालक बालिकाओं का सर्वांगीण विकास होता है। उन्होंने आंगनबाड़ी शिक्षा, प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालयों के सुदृढ़ीकरण और नई शिक्षा नीति की व्यवस्थाओं को लागू करने पर जोर दिया। उन्होंने थारु जनजाति के आरक्षण के मुद्दे पर मंच से बोला कि आरक्षण लागू करना भारत सरकार तक का विषय नहीं है। राजनीतिक आरक्षण देश में कोर्ट ही लागू करता है. कई जातियां हैं और कई जनजातियां हैं। ऐसे में यदि आरक्षण उपजाति के तौर पर लागू किया जाता है तो उसके विभाजन में बड़े पैमाने पर समस्या होगी।

बालिका शिक्षा जरूरी:राज्यपाल

राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने मंच से बालिका शिक्षा पर जोर देते हुए कहा कि सिद्धार्थ विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में 36 में से 24 लड़कियों को गोल्ड मेडल मिला, अगर बालिकाओं को आगे बढ़ने का अवसर दिया जाए तो वह समाज में मूल चूल परिवर्तन ला सकती हैं। हर माता-पिता को बालिका शिक्षा पर ध्यान देना चहिए और उन्हें आगे बढ़ाने के लिए कोशिश करनी चाहिए। राज्यपाल ने आश्वासन दिया कि इमिलिया कोडर में थारू जनजाति के और जो कुछ भी राजभवन या उत्तर प्रदेश सरकार कर सकती है, वह जरूर करेगी।

थारू सांस्कृतिक कार्यक्रमों का हुआ आयोजन

बलरामपुर जिले में पहुंची उत्तर प्रदेश के राज्यपाल आनंदीबेन पटेल के स्वागत के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के आयोजन में थारू सभ्यता का परिचय देते हुए थारू जनजाति के छात्र छात्राओं ने कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी। इस दौरान बेटियों ने आत्मरक्षा कैसे करें कार्यक्रम की प्रस्तुति भी की।

पुलिसकर्मियों ने दी सलामी

बलरामपुर पहुंची राज्यपाल आनंदीबेन पटेल को पुलिसकर्मियों ने सलामी दी। पुलिसकर्मियों ने गार्ड ऑफ ऑनर देते हुए राजपाल का स्वागत किया।

चाक-चौबंद रही सुरक्षा व्यवस्था

राज्यपाल के आगमन को लेकर जिला प्रशासन सतर्क रहा। कार्यक्रम स्थल के चारों ओर पुलिसकर्मियों ने सुरक्षा घेरा बनाया था। सुरक्षा व्यवस्थाओं का जायजा लेने पुलिस महानिरीक्षक देवीपाटन डा राकेश सिंह कार्यक्रम स्थल पचपेड़वा क के इमिलिया कोडर पहुंचे। वहां पर उन्होंने सुरक्षा में लगे पुलिसकर्मियों को ब्रीफ किया। वहीं पुलिस अधीक्षक हेमंत कुटियाल ने स्वयं सुरक्षा व्यवस्थाओं की कमान संभाल रखी।

Updated : 18 March 2021 2:07 PM GMT
Tags:    

Swadesh Lucknow

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top