Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > अन्य > सीएम योगी की पहल पर तीसरी बार गोरखपुर आ रहे हैं राष्ट्रपति, गिफ्ट करेंगे टेराकोटा के श्रीराम

सीएम योगी की पहल पर तीसरी बार गोरखपुर आ रहे हैं राष्ट्रपति, गिफ्ट करेंगे टेराकोटा के श्रीराम

सीएम योगी की पहल पर तीसरी बार गोरखपुर आ रहे हैं राष्ट्रपति, गिफ्ट करेंगे टेराकोटा के श्रीराम
X

गोरखपुर। मुख्यमंत्री योगी की महात्वाकांक्षी एक जिला-एक उत्पाद (ओडीओपी) योजना में शामिल गोरखपुर की एक खास पहचान टेराकोटा की ब्रांडिंग राष्ट्रपति रामनाथ कोविंड के आगमन पर और मजबूत होगी। राष्ट्रपति चार-पांच जून को गोरखपुर और मगहर आ रहे हैं। मगहर में आयोजित कार्यक्रम में उन्हें उद्यमियों की तरफ से टेराकोटा शिल्प से बनी प्रभु श्रीराम, भगवान गणेश और महान समाज सुधारक संत कबीर की मूर्ति गिफ्ट की जाएगी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की पहल पर तीसरी बार गोरखपुर आ रहे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद चार जून को गोरखपुर में धार्मिक पुस्तकों के प्रकाशन की विश्व स्तरीय ख्याति प्रतिष्ठित संस्था गीता प्रेस के शताब्दी वर्ष समारोह का शुभारंभ करेंगे। इसी दिन वह गोरखनाथ मंदिर पहुंचकर शिवावतारी बाबा गोरखनाथ का दर्शन-पूजन भी करेंगे। पांच जून को वह संत कबीर की साधना स्थली मगहर जाएंगे और वहां आयोजित कार्यक्रम में भाग लेंगे। मगहर, गीडा के समीप है। संत कबीर की साधना स्थली पर आयोजित कार्यक्रम में गोरखपुर औद्योगिक विकास प्राधिकरण (गीडा) के कुछ उद्यमी भी राष्ट्रपति से मिलेंगे और उन्हें टेराकोटा शिल्प से बनी मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम, भगवान गणेश और संत कबीर की मूर्तियां भेंट करेंगे। उल्लेखनीय है कि टेराकोटा माटी शिल्प गोरखपुर की खास पहचानों में से एक है। सीएम योगी द्वारा इसे एक जिला एक उत्पाद योजना में शामिल करने के बाद इसकी ख्याति वैश्विक फलक तक पहुंची है।

सीएम योगी के बुलावे पर तीसरी बार हो रहा है राष्ट्रपति का आगमन -

रामनाथ कोविंद ऐसे पहले राष्ट्रपति हैं जो तीसरी बार गोरखपुर आ रहे हैं। इसका श्रेय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को जाता है। श्री कोविंद बतौर राष्ट्रपति सबसे पहले 10 दिसम्बर 2018 को गोरखपुर आए थे। तब वह महाराणा प्रताप शिक्षा परिषद के संस्थापक समारोह में बतौर मुख्य अतिथि सम्मिलित हुए थे। गोरखनाथ मंदिर जाकर गुरु गोरक्षनाथ की आराधना की थी। इसके बाद उनका गोरखपुर आगमन 28 अगस्त 2021 को हुआ था। तब उन्होंने महायोगी गुरु गोरखनाथ आयुष विश्वविद्यालय का शिलान्यास और महायोगी गोरखनाथ विश्वविद्यालय का लोकार्पण किया था।

Updated : 28 May 2022 1:55 PM GMT
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top