Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > अन्य > भगवा पगड़ी पहन मुस्लिम भाइयों ने तोड़ी मजार, कहा - सामाजिक सौहाद्र बिगाड़ना था मकसद

भगवा पगड़ी पहन मुस्लिम भाइयों ने तोड़ी मजार, कहा - सामाजिक सौहाद्र बिगाड़ना था मकसद

भगवा पगड़ी पहन मुस्लिम भाइयों ने तोड़ी मजार, कहा - सामाजिक सौहाद्र बिगाड़ना था मकसद
X

बिजनौर। प्रदेश में जारी कांवड़ यात्रा के दौरान सामाजिक सौहाद्र बिगाड़ने के इरादे से तीन मजारों में तोड़फोड़ कर माहौल बिगाड़ने की कोशिश की गई। इस कृत्य को भगवा गमछा बांधकर दो मुस्लिम भाईयों ने ही अंजाम दिया है। हालांकि पुलिस ने त्वारित कार्रवाई करते हुए दोनों भाईयों को गिरफ्तार कर कानूनी कार्रवाई शुरु कर दी है।


इस संबंध अपर पुलिस महानिदेशक (एडीजी) कानून एवं व्यवस्था प्रशांत कुमार ने बताया कि जनपद बिजनौर के अंतर्गत थाना शेरकोट में पुलिस को रविवार शाम पांच बजे सूचना मिली कि दो लोगों ने जलाल शाह की मजार पर तोड़फोड़ कर चादर जलाई है। पुलिस जब वहां पहुंची तो एक और सूचना मिली कि उसी थाना क्षेत्र के भूरे शाह की मजार पर भी तोड़फोड़ और आगजनी की घटना हुई है। इसके बाद पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए दो अभियुक्त कमाल और आदिल को गिरफ्तार किया। ये दोनों सगे भाई है। इन्होंने सिर पर गमछा बांधकर मजार को तोड़ते हुए वहां की चादरें जलाई हैं।

माहौल बिगाड़ने की मंशा -

धार्मिक ग्रंथों को क्षति पहुंचाई गई है। जब धर्मगुरुओं के साथ मामले की जांच की गई तो पाया गया कि धार्मिक ग्रंथों को कोई क्षति पहुंचाई गई है। पूछताछ में अभियुक्तों ने यह स्वीकारा कि शेरकोट कस्बे में सुबह 11 बजे के करीब कुतुब शाह की मजार पर भी तोड़फोड़ की थी। इनकी पूरी मंशा थी कि कावंड यात्रा के दौरान सांप्रादयिक सौहार्द बिगाड़कर प्रदेश का माहौल खराब किया जाए, लेकिन पुलिस की सतर्कता और लोगों की सूझ-बूझ से उनके इस कृत्य पर पानी फेर दिया है। अभियुक्तों के खिलाफ पुलिस की ओर से कठोर कार्रवाई की जा रही है।

Updated : 2022-08-07T20:16:22+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top