Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > अन्य > बसपा सुप्रीमो और मुलायम सिंह ने एक साथ साझा किया मंच, मायावती बोलीं - नकली लोगों से धोखा खाने से बचे

बसपा सुप्रीमो और मुलायम सिंह ने एक साथ साझा किया मंच, मायावती बोलीं - नकली लोगों से धोखा खाने से बचे

बसपा सुप्रीमो और मुलायम सिंह ने एक साथ साझा किया मंच, मायावती बोलीं - नकली लोगों से धोखा खाने से बचे
X

मैनपुरी। मैनपुरी में शुक्रवार को सपा, बसपा व रालोद गठबंधन की संयुक्त रैली आयोजित की गई। इस दौरान बसपा मुखिया मायावती, सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव और सपा मुखिया अखिलेश यादव ने रैली को संबोधित किया।

रैली को संबोधित करते हुए मायावती ने कहा कि मुलायम सिंह यादव पिछड़ों के असली नेता हैं। वह मोदी की तरह पिछड़ों के नेता होने का दिखावा नहीं करते। मुलायम सिंह को रिकार्ड वोटों से जिताएं।

मायावती ने कहा कि मुलायम सिंह ने समाजवादी विचारधारा के तहत सभी समाज के लोगों को जोड़ा है। देश की वर्तमान हालत को देखते हुए गठबंधन का फैसला लिया गया है। नकली लोगों से ज्यादा धोखा खाने की जरूरत नहीं है। इस चुनाव में असली नकली की पहचान जरूरी है। बसपा मुखिया ने कहा कि गलत नीतियों की वजह से भाजपा तीन राज्यों में चुनाव हारी है। दो चरणों के मतदान में भाजपा की हवा खराब हो गई है। आगे के चरण में भाजपा की हालत और भी खराब हो जाएगी।

इस दौरान मुलायम ​सिंह ने जनता से भावुक अपील की। उन्होंने कहा कि आखिरी बार आपके बीच आया हूं। पहले से ज्यादा वोटों से हमें जिताएं। उन्होंने कहा कि बसपा प्रमुख मायावती आपके बीच हमारे लिए वोट मांगने आई हैं। उनका एहसान भी मैं कभी नहीं भूलूंगा।

अखिलेश यादव ने कहा कि यह ऐतिहासिक क्षण है, जहां पर मायावती ने नेताजी (मुलायम सिंह) को ​जिताने की अपील की है। नेताजी की सेवा भाव और उनके द्वारा कराए गए विकास कार्यों के लिए मैनपुरी की जनता उन्हें ऐतिहासिक वोटों से जीत दिलाएगी।

उन्होंने कहा कि भाजपा के लोग कहते हैं हमें नया भारत बनाना है। हम कहते हैं हमें नया प्रधानमंत्री बनाना है। देश का किसान इस देश की आत्मा हैं और आज किसान ही दुखी है।

Updated : 2019-05-04T15:15:37+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top