Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > अन्य > आयोध्या : मंदिर के भूमि पूजन का मुहूर्त तय करने वाले पुजारी को मिल रही है धमकियां

आयोध्या : मंदिर के भूमि पूजन का मुहूर्त तय करने वाले पुजारी को मिल रही है धमकियां

आयोध्या : मंदिर के भूमि पूजन का मुहूर्त तय करने वाले पुजारी को मिल रही है धमकियां
X

नई दिल्ली। राम मंदिर के भूमि पूजन के मुहूर्त पर चल रहा विवाद कम होने का नाम नहीं हो रहा है। कल पीएम नरेंद्र मोदी भूमि पूजन करेंगे इस बीच भूमि पूजन का मुहूर्त तय करने वाले पुजारी को धमकी मिलने की खबर है। पुजारी ने दावा किया है कि उन्हें फोन पर धमकी मिल रही है। बता दें कि भूमि पूजन की तारीख को लेकर काफी विवाद हो रहा है। शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती ने भूमि पूजन के तय वक्त को शुभ नहीं बताया है। उन्होंने कहा कि 5 अगस्त को दक्षिणायन भाद्रपद मास कृष्ण पक्ष की द्वितीया तिथि है। शास्त्रों में भाद्रपद मास में गृह, मंदिरारंभ कार्य निषिद्ध है। उन्होंने इसके लिए विष्णु धर्म शास्त्र और नैवज्ञ बल्लभ ग्रंथ का हवाला दिया। दिग्गज कांग्रेसी नेता दिग्विजय सिंह ने भी मुहूर्त को लेकर सवाल खड़े किए थे।

कर्नाटक के बेलगावी में रहने वाले पुजारी को धमकी भरे कई फोन आए हैं। पुजारी ने दावा किया कि ये कॉल देश के अलग-अलग हिस्सों से आ रही हैं। स्थानीय पुलिस ने पुजारी की सुरक्षा के लिए एक कांस्टेबल को भेजा है।

हालांकि बेलगावी के कमिश्नर ने बताया कि इस बारे में कोई आधिकारिक शिकायत दर्ज नहीं की गई है। चूंकि पुजारी को खतरा है इसलिए वहां पुलिस की तैनाती की गई है।

काशी के संतों के साथ ही ज्योतिषी मंदिर शिलान्यास को लेकर तय मुहूर्त पर सवाल खड़े कर रहे हैं। संतों और ज्योतिषियों के अनुसार, मंदिर के शिलान्यास के लिए तय इस तारीख के मुहूर्त से समय को उस दिन का सबसे अशुभ समय बताया जा रहा है। शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती के शिष्य स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद सरस्वती ने भी अपने फेसबुक पेज पर पोस्ट कर मंदिर के शिलान्यास की तय तिथि यानि 5 अगस्त को अशुभ बताया है

मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम और कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह ने मंदिर पूजन के मुहूर्त और गृह मंत्री अमित शाह से लेकर मंदिर के पुजारी के कोरोना संक्रमण को इससे जोड़ दिया है। उन्होंने कहा कि सनातन धर्म और हिंदू परंपराओं के उल्लंघन का नतीजा है यह।

उत्तर प्रदेश के अयोध्या में राम मंदिर का भूमि पूजन कार्यक्रम शुरू हो चुका है। सुबह 8 बजे से राम अर्चना के साथ हनुमान गढ़ी में पूजा आरंभ हो गई है। बुधवार 5 अगस्त को भूमि पूजन का कार्यक्रम है। पीएम मोदी को रामलला के दर्शन भी करेंगे और 'पारिजात' वृक्ष का रोपण भी करेंगे। PM अयोध्या में 3 घंटे तक रहेंगे।

Updated : 4 Aug 2020 9:07 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top