Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > भाजपा ने सत्ता के लिए नहीं राष्ट्र की सेवा के लिए काम किया : योगी आदित्यनाथ

भाजपा ने सत्ता के लिए नहीं राष्ट्र की सेवा के लिए काम किया : योगी आदित्यनाथ

भाजपा ने सत्ता के लिए नहीं राष्ट्र की सेवा के लिए काम किया : योगी आदित्यनाथ
X

लखनऊ। भारतीय जनता पार्टी छह अप्रैल को अपना 42वां स्थापना दिवस समारोह मना रही है। इसी क्रम में स्थापना दिवस पर प्रदेशभर में भाजपा का ध्वज फहराया गया, शोभायात्राएं निकाली गईं और विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किये जा रहे हैं। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुधवार को विधानसभा मार्ग स्थित पार्टी के प्रदेश कार्यालय पर पहुंचकर भाजपा का ध्वज फहराया। इस मौके पर उनके साथ भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह, प्रदेश महामंत्री गोविन्द नारायण शुक्ल, अनूप गुप्ता समेत पार्टी के अन्य विधायक, नेता और कार्यकर्ताओं ने प्रधानमंत्री का उद्बोधन भी सुना।

स्थापना दिवस पर कार्यकर्ताओं को बधाई देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा की यात्रा बहुत कुछ कहती है। योगी ने कहा कि भाजपा की यात्रा देश और दुनिया के राजनीतिक विश्लेषकों के लिए आश्चर्य का विषय है। यह यात्रा बहुत कुछ कह देती है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि भारतीय जनसंघ की स्थापना का उद्देश्य यही था कि हमें सत्ता की राजनीति नहीं, हमें भारत के लिए समर्पण का भाव पैदा करने वाले लोगों को एक राजनीतिक दल के रूप में आगे बढ़ाने का कार्य करना है। हमारी पार्टी राष्ट्र की सेवा के लिए है।

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जब जनसंघ की स्थापना हुई, उस समय तत्कालीन सत्ताधारी दल भारत की अखण्डता के साथ खिलवाड़ करते हुए कश्मीर को भारत से अलग करने की साजिश कर रहा था। उस स्थापना काल से ही जब बलिदान देने की आवश्यकता पड़ी तो जनसंघ के संस्थापक डा.श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने कश्मीर के लिए अपना बलिदान दिया।

इसके बाद जब भी आवश्यकता पड़ी जनसंघ व भाजपा के कार्यकर्ताओं ने राष्ट्र की एकता व अखण्डता के लिए काम किया। इस देश के अंदर आजादी के बाद सबसे बड़ा सांस्कृतिक आन्दोलन श्रीराम जन्मभूमि आन्दोलन के प्रति भाजपा के कार्यकर्ताओं के समर्पण पर कोई संदेह नहीं कर सकता। यही नहीं, जब भारत के लोकतंत्र का गला घोंटने का काम हुआ तो लोकतंत्र को बचाने के लिए अपनी दलीय निष्ठा से ऊपर उठकर जनता पार्टी का हिस्सा बनाकर जनसंघ ने लोकतंत्र के प्रति अपनी निष्ठा देश दुनिया के सामने व्यक्त किया। जनता पार्टी के विफल प्रयोग के बाद 1980 में जनता पार्टी से अलग होकर एक नये दल के रूप में अपनी यात्रा शुरू की।

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 'अंत्योदय से राष्ट्रोदय' के सुपथ पर गतिशील भारतीय जनता पार्टी द्वारा 07-20 अप्रैल, 2022 तक पूरे देश में 'सामाजिक न्याय पखवाड़ा' मनाने का निर्णय अभिनंदनीय है। यह निर्धन, वंचित, शोषित, दलित व पिछड़े वर्ग के सशक्तिकरण हेतु भाजपा की प्रतिबद्धता को नई ऊर्जा प्रदान करेगा।भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा के निर्देशन में भाजपा द्वारा मनाया जा रहा 'सामाजिक न्याय पखवाड़ा' समाज के अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति के जीवन में सकारात्मक परिवर्तन लाने में सहायक सिद्ध होगा, ऐसा मुझे विश्वास है। इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने बाबा साहब डा. भीमराव आम्बेडकर व अवंतीबाई लोधी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया।

Updated : 2022-04-09T11:52:16+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top