Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > उप्र के 2.67 लाख लोगों ने निकाल लिए पीएफ के 233 करोड़ रुपये

उप्र के 2.67 लाख लोगों ने निकाल लिए पीएफ के 233 करोड़ रुपये

उप्र के 2.67 लाख लोगों ने निकाल लिए पीएफ के 233 करोड़ रुपये

लखनऊ। कोरोना काल में नौकरीपेशा लोगों के लिए पीएफ खाते में जमा धन सहारा बना। लॉक डाउन से 25 जून तक सूबे में 2.67 लाख पीएफ अंशधारकों ने अपने जीवनयापन के लिए लगभग 233 करोड़ की धनराशि खाते से निकाल ली। ईपीएफओ के इतिहास में पहली बार तीन महीने में लाखों की संख्या में क्लेम का निस्तारण किया गया। खास बात यह भी रही कि 60 हजार से ज्यादा पुराने पीएफ खातों से भी धन निकासी की गई।

लॉकडाउन-2 से अनलॉक -1 के बीच पीएफ खातेधारकों ने पीएफ खाते से सबसे ज्यादा निकासी की। अभी भी पीएफ अंशधारक खाते से धन निकालने के लिए ऑनलाइन क्लेम फार्म भर रहे हैं। ईपीएफओ क्षेत्रीय कार्यालय में भी पीएफ अंशधारकों की लाइनें लग रही हैं। लॉक डाउन के दौरान ही ईपीएफओ ने अंशधारकों को राहत देने के लिए पीएफ खाते से धननिकासी का मौका दिया, जिसका अंशधारकों ने फायदा उठाया लेकिन हजारों अंशधारकों ने कोविड काल से अलग कारण बताकर भी खाते से धन निकाला है। वीवीबी सिंह,क्षेत्रीय आयुक्त ईपीएफओ ने बताया कि कोरोना काल में लगातार पीएफ सदस्य धन निकाल रहे हैं। रिकार्ड क्लेम फार्मों का निस्तारण किया गया। लॉक डाउन समय में भी स्टॉफ को बुलाकर क्लेम का निस्तारण किया जाता रहा ताकि लोग अपनी घर की जरूरतों को पूरा कर सकें। कानपुर रीजन में 22 करोड़ से ज्यादा का भुगतान सदस्यों को सीधे बैंक खाते में किया गया। सूबे में तो ढाई लाख से ज्यादा क्लेम का सेटलमेन्ट किया गया।

Updated : 27 Jun 2020 6:23 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top