Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > मंत्री ने प्रियंका से छत्तीसगढ़ में आदिवासी किसानों की हत्या पर मांगी प्रतिक्रिया

मंत्री ने प्रियंका से छत्तीसगढ़ में आदिवासी किसानों की हत्या पर मांगी प्रतिक्रिया

मांगी छत्तीसगढ़ में

मंत्री ने प्रियंका से छत्तीसगढ़ में आदिवासी किसानों की हत्या पर मांगी प्रतिक्रिया
X

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के वरिष्ठ मंत्री और सरकार के प्रवक्ता सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कांग्रेस नेत्री प्रियंका गांधी वाड्रा के प्रधानमंत्री को सम्बोधित पत्र के सम्बंध में उन पर तीखी प्रतिक्रिया करते हुए उनका ध्यान छत्तीसगढ़ और राजस्थान में किसानों की दुर्दशा की ओर दिलाया है।

यहां जारी एक बयान में सिद्धार्थ नाथ सिंह ने प्रियंका को याद दिलाया कि छत्तीसगढ़ में बस्तर रेंज में आदिवासी किसानों की हत्या पर उनका कोई बयान नहीं आया। क्या वह बतायेंगी कि उनकी पार्टी के कौन-कौन से नेता वहाँ गये थे ? उन्होंने आगे पूछा कि प्रियंका बताएं कि राजस्थान में किसानों पर लाठी चार्ज हुआ। कांग्रेस शासित प्रदेशों में किसानों पर अत्याचार पर प्रियंका दो शब्द बोल दें तो अच्छा रहेगा।

रॉबर्ट वाड्रा ही सबसे बड़े किसान

सिद्धार्थ नाथ सिंह ने प्रियंका से पूछा कि कारपोरेट कांग्रेस कब से किसानों की चिंता करने लगी। उन्होंने टिप्पणी की 'आपके लिए तो आपके पति रॉबर्ट वाड्रा ही सबसे बड़े किसान हैं, जो कौड़ियों में किसानों की जमीन खरीदकर, रातों रात मुंहमांगे दाम पर बेच देते हैं।' प्रदेश सरकार के प्रवक्ता ने आगे पूछा कि देश और प्रदेश में लंबे शासनकाल के दौरान कांग्रेस ने किसानों के लिए क्या किया, प्रियंका को यह भी बताना चाहिए न कि उत्तर प्रदेश की एक घटना को बार-बार उठाना चाहिये। जिसमें योगी सरकार उचित एक्शन ले चुकी है।

जय जवान, जय किसान का नारा भी सिर्फ नारा

सिद्धार्थ नाथ ने कहा कि कांग्रेस के लिए तो जय जवान, जय किसान का नारा भी सिर्फ नारा था। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा किसानों के लिए बने कानून की वापसी किसानों की भावनाओं का सम्मान है। यह कोई बड़ा दिलवाला ही कर सकता है। आप जैसी संकीर्ण और सीमित सोच वाले इसमें मीन मेख ही निकालेंगे। उन्होंने प्रियंका को सुझाव दिया कि वह छत्तीसगढ़, राजस्थान और पंजाब के किसानों की चिंता करें तो बेहतर होगा। रही लखीमपुर की घटना की बात, तो इस मामले में सरकार वह सब कुछ कर रही है जो उसे करना चाहिए। किसान इस पर सार्वजनिक रूप से संतोष भी जता चुके हैं।

Updated : 2021-11-22T12:30:16+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top