Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > यूपी बोर्ड रिजल्ट जारी, 10वीं में 83.31 फीसदी और 12वीं में 74.63 फीसदी स्टूडेंट्स पास

यूपी बोर्ड रिजल्ट जारी, 10वीं में 83.31 फीसदी और 12वीं में 74.63 फीसदी स्टूडेंट्स पास

यूपी बोर्ड रिजल्ट जारी, 10वीं में 83.31 फीसदी और 12वीं में 74.63 फीसदी स्टूडेंट्स पास

लखनऊ। यूपी बोर्ड हाईस्कूल और इंटर रिजल्ट upmsp.edu.in , upresults.nic.in और upmspresults.up.nic.in पर जारी कर दिया गया है।पहले यह प्रयागराज मुख्यालय से घोषित होता रहा है। इस बार परंपरा तोड़कर राजधानी से होगा। परिणाम को लेकर मुख्यमंत्री योगी ने बच्चों का हौसला बढ़ाया है। मुख्यमंत्री ट्वीटर के माध्यम से लिखा कि "मेरे प्यारे बच्चों, आज यूपी बोर्ड का परीक्षाफल आना है। वैसे परीक्षा व परीक्षाफल आत्म विश्लेषण का माध्यम मात्र है। अत: प्रत्येक परीक्षाफल को सहजतापूर्वक स्वीकार करना ही श्रेष्ठ है। प्रभु श्री राम की कृपाा से आप सभी को मनोनुकूल परीक्षाफल की प्राप्ति हो।

उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने लखनऊ स्थित लोकभवन के मीडिया सेंटर से नतीजों की घोषणा की। 10वीं में 83.31 फीसदी और 12वीं में 74.63 फीसदी स्टूडेंट्स पास हुए हैं। हाईस्कूल (10वीं) में बड़ौत-बागपत की रिया जैन ने 96.67 फीसदी मार्क्स के साथ टॉप किया है। जबकि इंटरमीडिएट (12वीं) में बड़ौत-बागपत के अनुराग मलिक ने 97% मार्क्स के साथ टॉप किया है। 10वीं और 12वीं के टॉपर एक ही स्कूल से हैं। इस वर्ष 10वीं और 12वीं दोनों का रिजल्ट पिछले साल से अच्छा रहा है।

10वीं के टॉपर

पहले स्थान पर - बड़ौत-बागपत की रिया जैन ने 96.67 फीसदी मार्क्स के साथ टॉप किया है।

दूसरे नंबर पर- अभिमन्यु वर्मा- पिता-रामहित वर्मा-95. 83%, बाराबंकी

तीसरे नंबर पर- योगेश प्रताप सिंह- राजेंद्र प्रताप सिंह 95.33%, बाराबंकी

12वीं के टॉपर

इंटरमीडिएट (12वीं) में बड़ौत-बागपत के अनुराग मलिक ने 97% मार्क्स के साथ टॉप किया है।

दूसरे स्थान पर - प्रांजल सिंह - 96% - प्रयागराज

तीसरे स्थान पर - उत्कर्ष शुक्ला, 94.80 - औरैया

- परीक्षा परिणाम की प्रेस कॉन्फ्रेंस में दिनेश शर्मा ने कहा कि इस वर्ष 10वीं और 12वीं दोनों का रिजल्ट अच्छा रहा है। इस वर्ष की परीक्षा में हम लोग इंटरमीडिएट में भी कम्पार्टमेंट परीक्षा का प्राविधान कर रहे हैं। 10वीं में 83.31 फीसदी स्टूडेंट्स पास हुए हैं। लड़कियों का रिजल्ट 10वीं और 12वीं दोनों में बेहतर रहा है।

- डॉ. दिनेश शर्मा ने कहा कि प्रदेश में 52 लाख विद्यार्थियों ने परीक्षा दी थी। परीक्षाफल समय से जारी करना सपना था। कठिन परिस्थितियों में परीक्षा करवाईं। 21 दिनों में कॉपियां जांचना और जल्दी परीक्षाफल घोषित करना महालक्ष्य था। रिजल्ट पिछले वर्ष से बेहतर है। दस महीने पहले ही स्कीम दी थी। परीक्षा 12 से 15 दिन में करवाईं। साथ में हमने प्रश्नपत्रों के मॉडल अपलोड किए थे। टोल फ्री हेल्पलाइन लगवाई। नकलविहीन परीक्षा के लिए 95 हजार परीक्षाकक्ष थे। एक लाख से ज्यादा सीसीटीवी कैमरे राउटर के साथ लगे। हर परीक्षा कैन्द्र व जिले व राज्य स्तर पर मॉनिटरिंग सेंटर बने।

ज्ञात हो कि बोर्ड की हाईस्कूल व इंटरमीडिएट परीक्षा में कुल 5611072 विद्यार्थी पंजीत थे और इसमें से 480591 विद्यार्थी परीक्षा में अनुपस्थित रहे। ऐसे में 5130481 विद्यार्थी परीक्षा में शामिल हुए थे। 18 फरवरी से शुरू हुईं बोर्ड परीक्षाएं छह मार्च को खत्म हुई थी।

कहां चेक कर सकेंगे UP Board Result?

> www.upmsp.nic.in

> www.upresults.nic.in

> www.upmsp.edu.in

> www.upmspresults.up.nic.in

> uttar-pradesh.indiaresults.com

> examresults.net/up

हालाकि, कोरोना महामारी की वजह से कॉपी चेकिंग की प्रक्रिया को रोक दिया गया था। हालात को देखते हुए सेफ जोन वाले इलाकों में कॉपियों की चेकिंग की गई और रिजल्ट तैयार किया गया। यूपी बोर्ड ने 12वीं की परीक्षा 18 फरवरी 2020 से 6 मार्च 2020 के बीच आयोजित की थी।

Updated : 2020-06-27T14:19:26+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top