Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > सीट बंटवारे को लेकर सपा-रालोद आमने-सामने, गठबंधन में खींचतान

सीट बंटवारे को लेकर सपा-रालोद आमने-सामने, गठबंधन में खींचतान

सीट बंटवारे को लेकर सपा-रालोद आमने-सामने, गठबंधन में खींचतान
X

लखनऊ। गठबंधन करने के बाद भी रालोद और समाजवादी पार्टी के बीच दो सीटों को लेकर खींचतान चल रही है। मेरठ जनपद की सिवालखास, मेरठ कैंट और मथुरा जनपद की मांट सीट को लेकर निर्णय नहीं हो पा रहा है। दोनों ही दल अपने-अपने पक्ष में इन सीटों को करने पर अड़े हुए हैं।

किसान आंदोलन के बाद बदली परिस्थितियों के बीच सपा और रालोद ने उप्र विधानसभा चुनावों में गठबंधन किया है। कई सीटों पर दोनों पार्टियों के प्रत्याशी घोषित हो चुके हैं। जबकि कई सीटों को लेकर दोनों दलों के बीच अभी तक खींचतान चल रही है। मेरठ जनपद की सिवालखास और मेरठ कैंट सीट को लेकर सपा-रालोद के बीच तलवार खींची हुई है। सिवालखास सीट को दोनों ही दल अपने पाले में चाहते हैं। इस सीट पर रालोद अपना परंपरागत दावा मानता है। जबकि 2012 के चुनावों में सपा के गुलाम मोहम्मद ने सिवालखास सीट पर जीत दर्ज की थी। इसलिए सपा नेता इस सीट पर अपना दावा कर रहे हैं। इसी तरह से मेरठ कैंट सीट पर भी सपा-रालोद कोई प्रत्याशी घोषित नहीं कर पाया है।

मथुरा जनपद की मांट सीट को लेकर भी सपा और रालोद आमने-सामने आ गए हैं। दोनों ही दलों ने इस सीट पर अपने प्रत्याशी घोषित कर दिए हैं। सपा ने एमएलसी डॉ. संजय लाठर को प्रत्याशी घोषित किया है तो रालोद ने भी योगेश नौहवार को टिकट दिया है। रालोद मुखिया जयंत सिंह एक बार मांट सीट से विधायक चुने गए थे। इस सीट पर गठबंधन के दो प्रत्याशी घोषित होने से कार्यकर्ता भी हैरान है। दोनों ही दलों के नेता जल्दी ही कोई रास्ता निकलने की बात कर रहे हैं।

Updated : 17 Jan 2022 12:02 PM GMT
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top