Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > संघ स्वयं सेवक संचालित कर रहे हैं 10 हजार से अधिक सेवा केंद्र

संघ स्वयं सेवक संचालित कर रहे हैं 10 हजार से अधिक सेवा केंद्र

आइसोलेशन केंद्र में उपस्थित सभी बहनों से व्यक्तिगत एक-एक करके संवाद स्थापित किया उनके प्रश्नों का समाधान दिया और उनको यह एहसास दिलाया कि हम सभी परिवार हैं यह आप ही के परिवार हैं आप हमसे अलग नहीं हैं।

संघ स्वयं सेवक संचालित कर रहे हैं 10 हजार से अधिक सेवा केंद्र
X

लखनऊ: सरस्वती कुंज निरालानगर स्थित माधव सभागार में बालगृह से आई बच्चियों के कोरोना की रिपोर्ट नेगेटिव आने के पश्चात आइसोलेशन का समय पूर्ण होने के कारण इन्हें पुनः अपने बालगृह में भेजने की तैयारी थी। इस आइसोलेशन के सत्र समापन के अवसर पर सरकार्यवाह राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ दत्तात्रेय होशबोले, क्षेत्रीय संगठन मंत्री विद्या भारती हेमचंद, प्रांत प्रचारक कौशलजी, सह प्रांत प्रचारक मनोजजी एवं विभाग प्रचारक संजयजी, उमाशंकरजी, रजनीश जी, सत्यानंद पांडेय, इंडियन रेड क्रॉस सोसाइटी के राजेन्द्र जी तथा बाल आयोग सदस्य सुचिता के उपस्थिति में कार्यक्रम संपन्न हुआ।

इस कार्यक्रम में सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबोले ने दीप प्रज्वलित कर अपना उद्बोधन दिया। आइसोलेशन केंद्र में उपस्थित सभी बहनों से व्यक्तिगत एक-एक करके संवाद स्थापित किया उनके प्रश्नों का समाधान दिया और उनको यह एहसास दिलाया कि हम सभी परिवार हैं यह आप ही के परिवार हैं आप हमसे अलग नहीं हैं। ठीक इसी प्रकार एक बालिका ने यह कहा कि हमने जो सपने देखे हैं वह कैसे पूरे होंगे और हमारा जो भी भविष्य है वह कैसे सुरक्षित रहेगा जिस पर सरकार्यवाह ने विश्वास दिलाया कि सरकार और संगठनों से संबंध स्थापित करके आप लोगों की समुचित व्यवस्था और भविष्य उज्जवल हो इसकी व्यवस्था अवश्य की जाएगी।

बच्चों के प्रश्न से सरकार्यवाह प्रसन्नता के संग भावुक भी हुए तथा इन बालिकाओं द्वारा जो पोस्टर पर अपनी भावनाएं प्रस्तुत की गई थी कला के रूप में उन सब का बारीकी से मूल्यांकन किया और प्रसन्नता व्यक्त की उद्बोधन में उन्होंने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ द्वारा पूरे देश में इस समय चलाए जा रहे लगभग 10,000 केंद्रों के बारे में भी बताया और यह बताया कि हमारे सेवा भारती के माध्यम से और भी अन्य अनुषांगिक संगठनों के माध्यम से समाज के पीड़ित वर्ग की हर स्तर पर हर संभव मदद कर रहे हैं और आगे भी करते रहेंगे।

उन्होंने बेंगलुरु के स्पर्श संस्था का भी नाम लिया जहां संघ ऐसी लगभग 9 संस्थाओं के माध्यम से ऐसे दीन हीन बच्चों हेतु जो भी प्रकल्प चलाए जा रहे हैं उसके बारे में विस्तृत चर्चा की और यह भी कहा कि लखनऊ में सेवा भारती के माध्यम से ऐसा ही एक प्रकल्प चलाया जाए जिसमें इन बच्चियों और अन्य भी बालक बालिकाओं का भरण पोषण के साथ-साथ उनका भविष्य संवारा जाए जिन्हें हमारी संस्कृति संस्कार राष्ट्रीयता इन सभी का भाव उन में स्थापित किया जाए।

Updated : 25 May 2021 3:57 PM GMT
Tags:    

Swadesh Lucknow

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top