Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > यूपी ने टीकाकरण लगाने में पेश की मिसाल, अब तक 2 करोड़ से अधिक बूस्टर डोज लगाए

यूपी ने टीकाकरण लगाने में पेश की मिसाल, अब तक 2 करोड़ से अधिक बूस्टर डोज लगाए

यूपी ने टीकाकरण लगाने में पेश की मिसाल, अब तक 2 करोड़ से अधिक बूस्टर डोज लगाए
X

लखनऊ। वैश्विक महामारी कोरोना के खिलाफ जंग जारी है। उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में चल रहे बूस्टर डोज (अमृत डोज) अभियान ने देश के अन्य राज्यों के सामने लंबी लकीर खींच दी है। मुख्यमंत्री योगी द्वारा लगातार की जा रही मॉनीटरिंग का ही परिणाम है कि अमृत डोज अभियान में मात्र 45 दिन के अंदर ढाई करोड़ से ज्यादा लोगों का वैक्सिनेशन हो चुका है, जबकि गुजरात को छोड़कर देश के अन्य राज्य इस आंकड़े के आधे पर भी नहीं हैं। यूपी में 15 जुलाई से शुरू हुआ अमृत डोज अभियान 30 सितंबर तक चलेगा।

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार तीन सितंबर तक यूपी ने कुल 37 करोड़ 18 लाख 54 हजार 092 कोविड डोज लगाकर देश के दूसरे राज्यों के सामने मिसाल पेश कर दी है। वहीं बूस्टर डोज की बात करें तो यहां भी यूपी ने बड़ा कीर्तिमान गढ़ा है। प्रदेश ने अबतक दो करोड़ 75 लाख 47 हजार 150 लोगों को अमृत डोज लगाने का रिकॉर्ड बना लिया है। यूपी में 18 से 59 वर्ष के दो करोड़ 05 लाख 85 हजार 789 जबकि 60 साल के ऊपर के 69 लाख 61 हजार 361 लोगों को बूस्टर डोज लगायी जा चुकी है।

केंद्र सरकार के आंकड़ों के अनुसार यूपी में तीन सितंबर तक 18 साल से ऊपर के 14 करोड़ 69 लाख 51 हजार 275 लोगों को कोविड के दोनों डोज लग चुके हैं। 15 से 18 साल के एक करोड़ 30 लाख 98 हजार 873 किशोरों को कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लगायी जा चुकी है। ऐसे ही 12 से 14 साल के 75 लाख 85 हजार 811 बच्चों को भी डबल डोज लग चुकी है।

वैसे तो अमृत डोज लगाने का अभियान प्रदेश के सभी 75 जिलों में चल रहा है, मगर परफॉर्मेंस की बात करें तो छोटे शहरों का प्रदर्शन सबसे बेहतर है। स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार महोबा का प्रदर्शन यूपी में सबसे अच्छा है। इसी प्रकार क्रमश: रायबरेली, देवरिया, मुजफ्फरनगर, चित्रकूट, कन्नौज, मैनपुरी, पीलीभीत, भदोही और मऊ में अमृत डोज अभियान प्रदेश के औसत (20.6 प्रतिशत) से काफी ऊपर है। इस लिस्ट में प्रदेश के 37 जिले शामिल हैं, जबकि 38 जिलों का प्रदर्शन प्रदेश के औसत से कम है। इन जिलों में टीकाकरण अभियान को और तेज करने के लिए मुख्य सचिव ने स्वास्थ्य विभाग को निर्देशित किया है।

पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है अमृत डोज

स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी अपडेट आंकड़ों के अनुसार प्रदेश के सभी जिलों में अमृत डोज पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है। उदाहरण के लिए मिर्जापुर में 29 हजार 180, कासगंज में 10 हजार 490, अमरोहा में 10 हजार 830, हरदोई में 20 हजार 850, बागपत में 12 हजार 280, मुरादाबाद में 17 हजार 90, आगरा में 24 हजार, मथुरा में 18 हजार 710, गौतमबुद्ध नगर में 29 हजार 10, लखनऊ में 50 हजार 680, रायबरेली में 34 हजार 830, मुजफ्फरनगर में 10 हजार 780, कन्नौज में 6970, पीलीभीत में 13 हजार, मऊ में 17 हजार 840, महोबा में 5240, देवरिया में 20 हजार 460, चित्रकूट में 5550, मैनपुरी में 14 हजार 960 और भदोही में 26 हजार 810 वैक्सीन डोज उपलब्ध है।

योगी की मॉनीटरिंग और प्रोत्साहन अभियान से दिख रहा रिजल्ट

यूपी सबसे ज्यादा वैक्सीन की डोज देकर देश में टीकाकरण अभियान का सफलतापूर्वक नेतृत्व कर रहा है। राज्य सरकार के प्रवक्ता कहते हैं कि प्रदेश की इस सफलता के पीछे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की ओर से लगातार मॉनीटरिंग और कोविड वैक्सिनेशन के लिए लोगों को प्रोत्साहित किया जाना मुख्य कारण है। इसके साथ ही बूस्टर डोज के महत्व के बारे में लगातार जागरुकता अभियान भी चलाया जा रहा है। इन अभियानों के माध्यम से टीकाकरण केंद्रों की जानकारी भी दी जा रही है।

Updated : 3 Sep 2022 12:41 PM GMT
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top