Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > विकास दुबे के एनकाउंटर पर बोलीं मायावती, असुरक्षित महसूस कर रहा ब्राह्मण समाज

विकास दुबे के एनकाउंटर पर बोलीं मायावती, असुरक्षित महसूस कर रहा ब्राह्मण समाज

विकास दुबे के एनकाउंटर पर बोलीं मायावती, असुरक्षित महसूस कर रहा ब्राह्मण समाज

लखनऊ। विकास दुबे के एनकाउंटर के बाद राजनीतिक हलकों में इसको लेकर लामबंदी भी शुरू हो चुकी है। इस बीच बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने रविवार को ट्वीट करते हुए योगी सरकार पर निशाना साधा है। बहुजन समाज पार्टी प्रमुख ने कहा कि कानपुर कांड के अपराधी विकास दुबे के एनकाउंटर के बाद ब्राह्मण समाज खुद को भयभीत और असुरक्षित महसूस कर रहा है। मायावती ने एक के बाद एक तीन ट्वीट कर योगी सरकार को आड़े हाथों लिया।

मायावती ने ट्वीट किया 'बीएसपी का मानना है कि किसी गलत व्यक्ति के अपराध की सजा के तौर पर उसके पूरे समाज को प्रताड़ित व कटघरे में नहीं खड़ा करना चाहिए। इसीलिए कानपुर पुलिस हत्याकाण्ड के दुर्दान्त विकास दुबे व उसके गुर्गों के जुर्म को लेकर उसके समाज में भय व आतंक की जो चर्चा गर्म है उसे दूर करना चाहिए।'

मायावती ने आगे लिखा, 'साथ ही, यूपी सरकार अब खासकर विकास दुबे-काण्ड की आड़ में राजनीति नहीं बल्कि इस सम्बंध में जनविश्वास की बहाली हेतु मजबूत तथ्यों के आधार पर ही कार्रवाई करे तो बेहतर है। सरकार ऐसा कोई काम नहीं करे जिससे अब ब्राह्मण समाज भी यहाँ अपने आपको भयभीत, आतंकित व असुरक्षित महसूस करे।'

मायवती ने योगी सरकार पर निशाना साधते हुए लिखा कि 'इसी प्रकार, यूपी में आपराधिक तत्वों के विरूद्ध अभियान की आड़ में छांटछांट कर दलित, पिछड़े व मुस्लिम समाज के लोगों को निशाना बनाना, यह भी काफी कुछ राजनीति से प्रेरित लगता है जबकि सरकार को इन सब मामलों में पूरे तौर पर निष्पक्ष व ईमानदार होना चाहिए, तभी प्रदेश अपराध-मुक्त होगा।'

बता दें कि कानपुर शूटआउट का मुख्य आरोपी आज सुबह विकास दुबे एनकाउंटर में मारा गया। यूपी एसटीएफ की गाड़ी विकास को लेकर कानपुर आ रही थी। सुबह करीब साढ़े छह बजे बारिश के बीच गाड़ी अचानक पलट गई। इस हादसे में विकास दुबे और कई सिपाहियों को चोटें आईं। इसके बावजूद विकास की नजरें पुलिस के चंगुल से बचकर भागने पर थी। उसने मौका पाकर एसटीएफ के एक अधिकारी की पिस्टल छीनकर भागने की कोशिश की। इसी के बाद मुठभेड़ शुरू हो गई। एसटीएफ ने विकास से हथियार रखकर सरेंडर करने को कहा। वह नहीं माना तो क्रॉस फायरिंग में विकास दुबे ढेर कर दिया गया। मुठभेड़ के बाद विकास दुबे के शव को कानपुर के हैलट अस्पताल लाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया गया।

Updated : 12 July 2020 3:18 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top