Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > उत्तर प्रदेश में 24 मई तक बढ़ाया गया लॉकडाउन, ठेलों वालों को मिलेंगे 1 हजार रुपए हर माह

उत्तर प्रदेश में 24 मई तक बढ़ाया गया लॉकडाउन, ठेलों वालों को मिलेंगे 1 हजार रुपए हर माह

कोरोना के केसों पर लगाम लगाने के लिए सीएम योगी ने शनिवार को कैबिनेट मीटिंग में महत्वपूर्ण फैसला लिया। सीएम योगी ने एक सप्ताह के लिए लॉकडाउन को और बढ़ा दिया है। 24 मई की सुबह सात बजे तक पाबंदियां जारी रहेंगी।

उत्तर प्रदेश में 24 मई तक बढ़ाया गया लॉकडाउन, ठेलों वालों को मिलेंगे 1 हजार रुपए हर माह
X

लखनऊ: एक बार फिर से उत्तर प्रदेश में लॉकडाउन को बढ़ा दिया गया है। दरअसल, इस बात का फैसला लॉकडाउन लगाने के बाद कोरोना के बढ़ते मामलों पर लगाम लगने के बाद लिया गया है। वहीं, अब रेह़डी-पटरी वालों को योगी सरकार ने प्रतिमाह एक हजार रुपए भत्ता और तीन माह का राशन देने की घोषणा की है।

कोरोना के केसों पर लगाम लगाने के लिए सीएम योगी ने शनिवार को कैबिनेट मीटिंग में महत्वपूर्ण फैसला लिया। सीएम योगी ने एक सप्ताह के लिए लॉकडाउन को और बढ़ा दिया है। 24 मई की सुबह सात बजे तक पाबंदियां जारी रहेंगी। नियम तोड़ने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। आवश्यक सेवाओं को छूट मिलती रहेगी। वहीं दूसरी ओर कैबिनेट बैठक में यूपी ऑक्सीजन उत्पादन प्रोत्साहन योजना 2021 को भी मंजूरी दी गई है। साथ ही यूपी सरकार ने श्रमिकों, ठेलेवाले, खोमचे वालों को 1000 रुपये महीना भत्ता और तीन महीने का राशन देने की घोषणा की है।

सीएम योगी ने शनिवार को कोविड-19 प्रबंधन के लिए गठित टीम-9 के अधिकारियों के साथ वर्चुअल संवाद में कहा कि बहुत से मरीज कोविड संक्रमण से मुक्त हो चुके हैं, लेकिन अभी भी उन्हें चिकित्सकीय निगरानी को जरूरत होती है। ऐसे मरीजों को उनकी मेडिकल कंडीशन के आधार पर एल-1 हॉस्पिटल में ऑक्सीजन युक्त बेड पर भर्ती जरूर कराया जाए। उनके सेहत की पूरी देखभाल हो।

सीएम ने कहा है कि कोविड प्रबंधन में निगरानी समितियों की भूमिका अति महत्वपूर्ण है। इन्हें और प्रभावी बनाने के लिए बेहतर निगरानी की जरूरत है। हर जिले के लिए सचिव या इससे ऊपर स्तर के एक-एक अधिकारी को नामित किया जाए। जबकि न्याय पंचायत स्तर पर जिला स्तरीय अधिकारियों को सेक्टर प्रभारी के रूप में तैनात किया जाए। यह प्रभारी अपने क्षेत्र में मेडिकल किट वितरण, होम आइसोलेशन व्यवस्था, क्वारन्टीन व्यवस्था, कंटेनमेंट ज़ोन को प्रभावी बनाने तथा आरआरटी की संख्या बढाने के लिए सभी जरूरी प्रयास करेंगे। जो अधिकारी हाल ही में कोविड संक्रमण से मुक्त होकर स्वस्थ हुआ हो, उनकी तैनाती इसमें न की जाए।

Updated : 2021-05-16T08:15:19+05:30
Tags:    

Swadesh Lucknow

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top