Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला के देशद्रोही बयान का असर लखनऊ तक पहुंचा

पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला के देशद्रोही बयान का असर लखनऊ तक पहुंचा

पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला के देशद्रोही बयान का असर लखनऊ तक पहुंचा
X

लखनऊ। हिंदू जागरण मंच के उत्तर प्रदेश व उत्तराखंड के संगठन मंत्री शिवकुमार ने कहा कि जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने चीन को बढ़ावा देते हुए देश की जनता को आहत करने वाला देशद्रोही बयान दिया है। फारुक अब्दुल्ला के बयान का असर लखनऊ तक है।

हिंजामं के दो प्रदेशों के संगठन मंत्री शिवकुमार ने लखनऊ के कैसरबाग स्थित कार्यालय पर मीडिया से बातचीत में कहा कि जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने एक न्यूज़ पोर्टल पर इंटरव्यू देते हुए कहा था कि कश्मीर के लोग खुद को भारतीय नहीं मानते और भारत में नहीं रहना चाहते, इसके बदले वह चीन का शासन चाहते हैं। फारुक अब्दुल्ला के इस बयान से देश की जनता आहत है। इससे जनभावनाओं को ठेस पहुंची हैं।

उन्होंने कहा कि फारूक अब्दुल्ला की मंशा, जम्मू कश्मीर के लोगों को चीन की सत्ता में रखने की है। फारूक अब्दुल्ला का बार-बार चीन की सत्ता का गुणगान करना और जम्मू कश्मीर के लोगों पर चीनी सत्ता को थोपने का प्रयास करना गलत है। जम्मू कश्मीर के लोग खुद को भारतीय मानते हैं और वे कश्मीर में तिरंगा झंडा फहराना पसंद करते है।

उन्होंने कहा कि लखनऊ के भीतर लोगों में फारुक अब्दुल्ला के बयान का खासा असर है। इस बयान से आमजन में गुस्सा व्याप्त है। हिंदू जागरण मंच इस बयान का पूरी तरह से विरोध करती है और आम जनमानस के साथ खड़ी है। मंच की मांग है कि फारुक अब्दुल्ला के ऊपर देशद्रोह का मुकदमा दर्ज होना चाहिए।

Updated : 2020-10-13T14:01:27+05:30
Tags:    

Swadesh News

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top