Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > लखनऊ > कोरोना के नए वैरिएंट से निपटने के लिए योगी सरकार ने कसी कमर, दिए निर्देश

कोरोना के नए वैरिएंट से निपटने के लिए योगी सरकार ने कसी कमर, दिए निर्देश

कोरोना के नए वैरिएंट से निपटने के लिए योगी सरकार ने कसी कमर, दिए निर्देश
X

लखनऊ। कोरोना संक्रमण की पहली और दूसरी लहर पर नियंत्रण पाने वाली योगी सरकार ने डेल्टा वेरिएंट से भी ज्यादा खतरनाक बताए जा रहे ओमीक्रान वेरिएंट को गंभीरता से लिया है। सरकार ने इससे निपटने की पूरी तैयारी ही नहीं की है बल्कि इस घातक वैरिएंट को उत्तर प्रदेश में घुसने नहीं देने का संकल्प लिया है। इसके लिए राज्य सरकार ने सभी सावधानियां बरतनी शुरू कर दी हैं।

मुख्य्मंत्री योगी आदित्यनाथ ने आला अधिकारियों को अलर्ट मोड पर काम करने के निर्देश दिए हैं। प्रदेश में इस नए वैरिएंट को लेकर लखनऊ समेत सभी जिलों में विदेश से आने वालों की पड़ताल के निर्देश जारी किए गए हैं। इसके तहत प्रदेशभर में निगरानी समितियां, सर्विलांस टीम, स्वास्थ्य विभाग की टीम, डीएम, डीएसओ व डीआईओ ने जमीनी स्तक पर मोर्चा संभाल लिया है।

राज्य सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि विदेशों से आने वाले यात्रियों की ट्रेसिंग और कोविड प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन किया जा रहा है। इसके साथ ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर कोरोना की दूसरी लहर में गठित की गई विशेषज्ञों की टीम भी इस नए वैरिएंट पर अपनी पैनी नजर बनाए हुए है। यह टीम विदेशों में इस नए वैरिएंट के लक्षण, प्रभाव और इसके खतरे का आकलन करेगी। इस नए वैरिएंट की संक्रमण दर कितनी है, डेल्टा से कितना खतरनाक है और इस नए वैरिएंट पर वैक्सीन के प्रभाव का आकलन किया जाएगा।

पॉजिटिव पाए जाने वाले यात्रियों की होगी जीनोम सीक्वेंसी -

प्रदेश के सभी एयरपोर्ट पर सख्ती बढ़ा दी गई है। सभी यात्रियों की एयरपोर्ट पर नि:शुल्क आरटीपीसीआर जांच भी की जा रही है। प्रदेश में एक ओर डेली मॉनीटरिंग को बढ़ाने के साथ ही निगरानी समितियां भी अलर्ट हैं। विदेश से आने वाले किसी भी यात्री की आरटीपीसीआर जांच कराने और पॉजिटिव निकलने पर नमूना जीनोम सीक्वेंसी के लिए भी भेजा जाएगा।

यूपी में टीकाकरण 16 करोड़ के पार -

24 करोड़ की आबादी वाले यूपी में मुख्यमंत्री योगी के निर्देशानुसार एक सधी रणनीति के तहत तेजी से टीकाकरण किया जा रहा है। शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में टीकाकरण की प्रक्रिया को बढ़ावा देने के उद्देश्य से एक प्रभावी रणनीति के अनुसार कार्य किया जा रहा है। परिणामस्वरूप सफल परिणाम प्रदेश में देखने को मिल रहे हैं। प्रदेश में अब तक 16 करोड़ दो लाख से अधिक पात्र लोगों का टीकाकरण किया जा चुका है। इसमें 11 करोड़ 11 लाख से अधिक पात्र लोगों को पहली डोज और चार करोड़ 90 लाख से अधिक पात्र लोगों को दूसरी डोज दी जा चुकी है। प्रदेश के 75.22 प्रतिशत पात्र लोगों ने पहली और 33.02 प्रतिशत पात्र लोगों ने दूसरी डोज का टीका कवर प्राप्त कर लिया है।

कोरोना सक्रिय केसों की संख्या 86

रणनीति के कारण आज उत्तर प्रदेश सरकार ने कम समय में कोरोना संक्रमण पर तेजी से लगाम लगाई है। प्रदेश में बीते 24 घंटों में एक लाख 24 हजार 647 कोरोना टेस्ट किए गए। इसमें केवल पांच लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई। अब तक यूपी में आठ करोड़ 74 लाख 37 हजार 937 टेस्ट किए जा चुके हैं। प्रदेश में कुल एक्टिव कोविड केस की संख्या 100 से कम होकर 86 रह गई है। बीते 24 घंटों में नौ संक्रमितों ने कोरोना को मात दी है। इसके साथ ही प्रदेश का रिकवरी रेट अब 98.7 प्रतिशत पहुंच गया है।

Updated : 2021-11-30T20:00:59+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top